जीएनएसयू : विद्यार्थियों ने सीखे कारोबारी आंकड़ा विश्लेषण के गुर

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। जमुहार स्थित गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय (जूएनएसयू) के अंतर्गत फैकल्टी आफ मैनेजमेन्ट स्टडीज द्वारा एक सप्ताह तक चले रिसर्च और डाटा एनालिसिस कार्यशाला में प्रबंधन के छात्र-छात्राओं ने संबंधित जानकारी हासिल की। इस कार्यशाला का आरंभ एक सप्ताह पहले किया गया था। भूटान के रायल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर रजनीश रतन ने बताया कि बहुराष्ट्रीय कंपनियों में आंकड़ों के संग्रहीकरण, विश्लेषण और शोध से संबंधित विभिन्न तरह की मांग बढ़ रही है, जिसके अनुरूप प्रबंधन के विद्यार्थियों को ढलना जरूरी है। कारोबार अब दुनिया में लगातार जटिल प्रक्रिया होती जा रही है। उन्होंने एसपीएस टूल्स और स्टेटिकल फार्मूला के उपयोग के गुर बताए। बताया कि जरूरतों के अनुरूप आर्थिक प्रबंधन कैसे किया जा सकता है? इस कार्यशाला के समापन के मौके पर जूएनएसयू के सचिव गोविन्द नारायण सिंह और नारायण मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल के प्रबंध निदेशक त्रिविक्रम नारायण सिंह ने कहा कि कारोबार के अनुरूप आंकड़ों का विश्लेषण और उनका अनुकूल उपयोग पूरी दुनिया में बढ़ रहा है। इस विश्वविद्यालय के विद्यार्थी इस गुर को सीखे और दक्ष बने, इसी उद्देश्य से इस कार्यशाला का आयोजन किया गया।
आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना के तहत हुआ पहला हर्ट एंजियोप्लास्टी आपरेशन

गोपालनारायण सिंह विश्वविद्यालय के अतंर्गत नारायण मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल (एनएमसीएच) में हृदय-आधात से पीडि़त एक वरिष्ठ नागरिक की एंजियोप्लास्टी विधि से सफल आपरेशन कर स्वस्थ किया गया। अकोढ़ी गोला प्रखंड के नरेद्र प्रसाद हृदयाघात से बेहोश हो गए थे। उन्हें एनएमसीएच लाया गया। हृदय रोग विभाग के प्रभारी चिकित्सक डा. गिरीशनारायण मिश्र ने मरीज को एंजियोग्राफी करने के बाद इनडोर विभाग में भर्ती कर लिया। डा. मिश्र ने सहायक चिकित्सक डा. अभिषेक कामेन्द की मदद से पीटीसीए विधि से मरीज का एंजियोप्लास्टी आपरेशन किया। आपरेशन के बाद जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे मरीज का हृदय सामान्य तौर पर काम करने लगा। यह रोहतास जिला में किया गया पहला एंजियोप्लास्टी आपरेशन है। यह आपरेशन केेंद्र सरकार की जनस्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत के अंतर्गत उपलब्ध चिकित्सकीय सुविधा के रूप में संपन्न किया गया।
(भूपेंद्रनारायण सिंह, पीआरओ, एनएमसीएच)

 

सिंगिंग स्टार आफ बिहार के विजेता बने मॉन्टी केशरी

हाजीपुर (सोनमाटी संवाददाता)। माउंट कार्मेल विद्यालय परिसर आयोजित रियलिटी शो सिंगिंग स्टार आफ बिहार में अपनी गायन कला का प्रदर्शन कर मान्टी केशरी ने अग्रणी स्थान प्राप्त किया। गायन कला की इस प्रतियोगिता में गोपालगंज, नालंदा, गया, बेगूसराय, समस्तीपुर, मोतिहारी, मुजफ्फरपुर, वैशाली, छपरा, सारण और पटना जिलों के दर्जनों गायकों ने भाग लिया। निर्णायक मंडल में इस शो के क्रिएटिव डायरेक्टर सिकेन शेखर और इस प्रतिस्पर्धी कार्यक्रम की मुख्य जज शास्त्रीय गायिका डा. श्वेता प्रियदर्शनी (मुजफ्फरपुर) थीं। शो में विनर मान्टी केशरी, पहला रनरअप मोनू विवेक, दूसरा रनरअप अंशुलिका कुमारी, तीसरा रनरअप राधिका कुमारी और चौथा रनरअप तशक श्रीवास्तव घोषित किए गए। डा. श्वेता प्रियदर्शनी ने कहा कि यह मेरे लिए पहला अनुभव था। हाजीपुर की धरती पर ग्राउंड लेवल पर गायकों का पैशन देखने का अवसर मिला। होमियोपैथिक मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डा. विनोद प्रसाद सिंह ने कहा कि बच्चों में क्षमता है, जरूरत है ऐसे आयोजनों से उनकी क्षमता को बढ़ावा देने की है। शो के क्रिएटिव डायरेक्टर ने अंत में धन्यवाद ज्ञापन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.