नीलमराज फाउंडेशन ने गांव में लगाया स्वास्थ्य शिविर, चेस क्लब का होली मिलन, कैशलेश ट्रेंड में मोहिनी आगे

गया (विशेष प्रतिनिधि)। नीलमराज फाउंडेशन के बैनरतले रूपसपुर (मानपुर) में आयोजित नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर में आंखों और दांतों का परीक्षण किया गया। शिविर का उद्घाटन ग्राम कचहरी शादीपुर की सरपंच सह नीलमराज फाउंडेशन की सचिव श्रीमती डाली, समाजसेवी विपिन श्रीवास्तव, उपसरपंच बेबी देवी, न्याय सचिव विजय कुमार शर्मा, नेत्र रोग विशेषज्ञ डा. वीरेंद्र कुमार और दन्त रोग विशेषज्ञ डा. शाम्भवी कुमारी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

चिकित्सकों ने शिविर में आए हुए ग्रामीणों में से 268 लोगों के स्वास्थ्य, आंखों और दांतों का परीक्षण कर संबंधित जरूरी परामर्श दिए। फाउंडेशन की ओर से दवाइयां भी बांटी गईं।
स्वास्थ्य शिविर के संयोजन में धर्मवीर फिल्म-टीवी के एडीटर पप्पू कुमार, अधिवक्ता आईडी शर्मा, स्वास्थ्य शिविर समन्वयक शैलेंद्र कुमार आदि ने योगदान दिया।

नीलमराज फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष डा. धर्मवीर भारती ने अंत में यह बताया कि चूंकि गांव के लोग चिकित्सक के पास अत्यंत परेशानी की स्थिति में होने पर पर जाते हैं, जिस कारण स्वास्थ्य की समस्या ग्रामीणों में ज्यादा होती है।

उन्होंने कहा कि फाउंडेशन की ओर से चिकित्सा शिविर का आयोजन समय-समय पर किया जाएगा। उन्होंने यह भी जानकारी दी कि शादीपुर बिहार की पहली कंप्यूटरीकृत ग्राम कचहरी है।

 

डेहरी चेस क्लब परिसर में होली मिलन का आयोजन

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। डेहरी चेस क्लब की ओर से स्टेशन रोड स्थित शंकर लाज में होली मिलन का आयोजन किया गया, जिसमें चेस क्लब के शतरंज खिलाड़ी सदस्य, संरक्षक मंडल और शहर के कई गणमान्य ने हिस्सा लिया। होली मिलन में लोगों ने गुलाल लगाकार एक-दूसरे को शुभकामनाएं दीं।

शंकर लाज और चेस क्लब की स्वयंसेवी और बाल टीम की ओर से व्यंजन, मिठाई परोसे गए, जिसका आनंद अतिथियों ने उठाया।

होली मिलन में चेस क्लब के संस्थापक संयोजक दयानिधि श्रीवास्तव उर्फ भरत लाल, स्वयंप्रकाश मिश्र उर्फ सुमन्त मिश्र (सिने अभिनेता), उपाध्यक्ष प्रो. रणधीर सिन्हा, अधिवक्ता गोपालस्वरूप तिवारी, उप सचिव सत्यनारायण प्रसाद सोनी, सुरेंद्र कुमार यादव, उपेंद्र कुमार, कोषाध्यक्ष शंकर कुमार के साथ शतरंज खिलाड़ी रामनारायण सिंह, विनोज कुुमार, रमेश चौधरी, धनंजयकुमार सिंह, शंभुशरण सिंह, आनंद पांडेय, आलोक कुमार, जयमंगल सोनी, जगदेव प्रसाद, माधवमुकुंद मिश्रा, अनुभव आनंद, रवि मिश्रा,  रामनारायण सिंह, विनोज कुुमार, रमेश चौधरी थे। आगत अतिथियों में कारपोरेट कन्सलटेंट अरुण कुमार गुप्ता, वरिष्ठ अधिवक्ता विजय सिंह, सोनमाटी संपादक कृष्ण किसलय, सोनघाटी पुरातत्व परिषद के संयुक्त सचिव अवधेशकुमार सिंह (सेवानिवृत्त कृषि विज्ञानी), सुरेंद्रकुमार चौरसिया (जगदीश प्रसाद चौरसिया फूलकुमारी देवी जूनियर शतरंज प्रतियोगिता के प्रायोजक), सिने अभिनेता ठाकुर कुंजविहारी सिन्हा उर्फ मन्नाजी, पूर्व वार्ड पार्षद चीकू लाल, सुधांशु ओझा उर्फ पप्पू ओझा, भाजपा प्रखंड सचिव उदय सिंह, इंजीनियर प्रमोद कुमार सिंह, राजनीतिक-सामाजिक कार्यकर्ता शिव गांधी और शंकरलाज की स्वयंसेवी बाल टीम में आकाश कुमार श्रीवास्तव (2018 के जूनियर शतरंज प्रतियोगिता विजेता), अंजलि कुमारी, मीनाक्षी श्रीवास्तव, कुमार अनुभव शामिल थे।

(रिपोर्ट : निशांत राज, तस्वीर : रामनारायण सिंह)

डेहरी-आन-सोन रेलवे स्टेशन के  रेलकर्मियों ने मनाई होली

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-वरिष्ठ संवाददाता। रेलकर्मियों ने मनाई होली। रेलवे स्टेशन के अधिकारियों-कर्मचारियों ने होली मिलन का आयोजन कर एक-दूसरे को अबीर-गुलाल लगाकार होली की शुभकामनाएं प्रकट कीं। रेलकर्मियों ने यह माना कि उनकी नैतिक जिम्मेदारी है कि होली पर सौहार्दपूर्ण माहौल को बनाए रखने में सक्रिय योगदान दें और रेलकर्मी होने के नाते यह कर्तव्य है कि भीड़-भाड़ वाली स्थिति के बावजूद रेल यात्रियों की सुविधा के लिए हर संभव प्रयास करें।
होली मिलन में रेल स्टेशन प्रबंधक अशीम कुमार, सीनियर सेक्शन इंजीनियर नरेंद्र प्रताप सिंह, सभी स्टेशन मास्टर अरविंद कुमार, जेके सिंह, अतुल सिन्हा, रामू दास, आरके वर्मा, समरेन्द कुमार, एके यादव, अरूण कुमार, मुख्य गाड़ी लिपिक राजेश कुमार, टिकट सुपरवाइजर नंदकिशोर सिंह, इंजीनियरिंग सेक्शन के एमएम सिंह, वरिष्ठ रेलकर्मी वीरेन्द्र पासवान, प्रमोद तिवारी और अन्य विभागों के रेल कर्मचारी उपस्थित शामिल हुए।
(रिपोर्ट, तस्वीर : वारिस अली)

 

रंग और श्रृंगाररस से सराबोर तैलिक बंधुओं का होली मिलन

सासाराम (सोनमाटी संवाददाता)। रंगभरी एकादशी पर नगर तैलिक बंधुओं द्वारा चौक बाजार तैलिक वैश्य सकल पंचायत के सभा भवन में होली मिलन का आयोजन किया गया। समारोह की अध्यक्षता तैलिक वैश्य सकल पंचायत के अध्यक्ष विजय साहू ने की। वैश्य बंधुओं ने एक-दूसरे के माथे और गालों पर गुलाल लगाकर होली की शुभकामनाएं दी। समारोह में कविता-पाठ का भी आयोजन किया गया, जिसका आरंभ तैलिक वैश्य सकल पंचायत के प्रवक्ता अर्जुन कुमार की कविता से हुआ। तैलिक वैश्य सकल पंचायत के सदस्यों महेंद्र प्रसाद साहू, लल्ली प्रसाद, विजय साहू, डा. सुधीर कुमार, रामगहन गुप्ता, कुशाल कुमार, उमाशंकर साहू, जगनारायण साह, सुनील कुमार साहू, संजय गुप्ता, प्रेमचंद साह, चमरू साहू, कृपा शंकर प्रसाद, सत्यनारायण प्रसाद, रंजीत साह, रंविद्र कुमार, शिवपूजन साह, सुरेश प्रसाद गुप्ता, विनोद कुमार साहू, प्रदीप कुमार साहू, संतोष कुमार, अजीत कुमार, पारसनाथ गुप्ता, राजाराम साहू, मुन्ना प्रसाद गुप्ता, मनोज साह आदि ने भाग लिया। मंच संचालन अर्जुन कुमार ने किया।
(रिपोर्ट और तस्वीर : अर्जुन कुमार)

 

आनलाइन भुगतान के कैशलेस ट्रेंड में मोहिनी सबसे आगे

डेहरी-आन-सोन (कार्यालय प्रतिनिधि)। अब रसोई गैस की आनलाइन बुकिंग के साथ गैस सिलेंडर की कीमत का भुगतान भी आनलाइन स्वीकार किया जा रहा है। नई पीढ़ी के उपभोक्ताओं के लिए यह अर्थात कैशलेस कारोबार का ट्रेंड धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। केेंद्र सरकार ने रसोई गैस एजेंसियों को यह लक्ष्य दिया है कि मार्च 2019 तक कम से दो फीसदी भुगतान और डिलीवरी कैशलेस हो। बिहार के रोहतास जिला में यह चलन (ट्रेंड) करीब ढाई फीसदी पहुंच चुका है और इस मामले में इंडेन के अग्रणी वितरक मोहिनी इंटरप्राइजेज ने तो करीब आठ फीसदी की उपलब्धि हासिल कर ली है। मोहिनी इंटरप्राइजेज का आफिसियल वेबपोर्टल इंटरनेट बैंकिंग के जरिये कैश ट्रांसफर के साथ पेटीएम, क्रेडिट-डेबिट कार्ड, भीम ऐप से भी भुगतान स्वीकार कर रहा है।

मोहिनी इंटरप्राइजेज (डेहरी-आन-सोन) के संचालक उदय शंकर ने सोनमाटी मीडिया ग्रुप के प्रतिनिधि को जानकारी दी कि शहर में अभी तक रसोई गैस की बुकिंग आनलाइन तो होती थी, मगर उपभोक्ताओं को पैसा काउंटर पर नगद जमा करना होता था। अब आनलाइन बुकिंग के साथ गैस सिलेंडर की कीमत भी आनलाइन स्वीकार की जा रही है। इससे उपभोक्ता के बैंक खाता में सब्सिडी तत्काल जा रहा है। इस व्यवस्था का दूसरा लाभ यह है कि उपभोक्ताओं को वेंडर से होने वाली परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। ऐसा भी होता था कि गैस वितरक कार्यालय के कर्मी एक उपभोक्ता से पैसा लेकर उसे दूसरे के बैंक खाता से भी जोड़ देते थे। नई आनलाइन व्यवस्था से ऐसी गड़बड़ी होने की आशंका नहींरह गई है। हालांकि काउंटर पर कैश लेकर भी रसोई गैस आपूर्ति की व्यवस्था जारी है। गैस कंपनी से बतौर सर्विस चार्ज मिलने वाले कमीशन से ही वेंडर को प्रति सिलेंडर 10 रुपये का भुगतान हो रहा है।
उदय शंकर ने बताया कि किसी भी ऐप से भुगतान की व्यवस्था मोहिनी इंटरप्राइजेज के रसोई गैस मोबाइल डिलीवरी वैन में भी होने जा रही है। डिलीवरी करने वाले सभी ठेला वेंडर को भी पाउस मशीन मुहैया कराई जाएगी, ताकि उसे डेबिट-क्रेडिट कार्ड के जरिये भुगतान कर सकेें। ऐप से कैशलेस भुगतान को प्रोत्साहित करने के लिए ऐप कंपनी पेटीएम पांच से 15 रुपये उपभोक्ता के खाते में बतौर डेविडेंट ट्रांसफर करती है और लाटरी भी निकालती है।

(रिपोर्ट : निशांत राज)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.