बिहार के डिहरी विधानसभा क्षेत्र के लिए एनडीए रथी की तलाश

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)/पटना-विशेष प्रतिनिधि। बहुचर्चित अलकतरा घोटाला में रांची जेल में सजा काट रहे बिहार के पूर्व पथ निर्माण मंत्री मो. इलियास हुसैन के डिहरी के विधायक पद से अयोग्य हो जाने के बाद यह कयास लगाया जा रहा है कि इस विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव का महारथी कौन बनेगा? तरह-तरह के कयासों के दौर के बीच एनडीए अपने रथी प्रत्याशी के लिए मंथन कर रही है। जीत के लिए मंथन के साथ अर्थ-गणित पर भी रस्साकशी है कि कौन पार्टी या नेता के लिए फायदेमंद होगा? मामला भाजपा, जदयू और लोजपा के बीच उलझा हुआ है। इस दांव-पेंच और गुणा-भाग में टिकट किसे मिल जाएगा, कहना मुश्किल है। संभव यह भी है कि न तोर न मोर जोर, दोसरा के छऊर वाली कहावत चरितार्थ हो जाए।
महागठबंधन की ओर से सजायाफ्ता इलियास हुसैन के बेटा फिरोज हुसैन को राजद से टिकट देेेने की घोषणा हो चुकी है। राष्ट्र सेवा दल अपने रथी की घोषणा कर चुकी है, जिसके उम्मीदवार पूर्व विधायक प्रदीप जोशी मैदान में हैं। जाहिर हैं कि इन्हींरथियों के बीच ही मुख्य मुकाबला होगा और इन्हीं मेंसे मतदाता अपना महारथी (विजेता) चुनेंगे। संभव है कि जनता का फैसला भी नकरात्मक, प्रतिक्रियात्मक मतदान के कारण अप्रत्याशित हो जाए। यह विधानसभा सीट के कांग्रेस के खाते में नहींजाने की वजह से बिहार के भूतपूर्व मंत्री अब्दुल क्यूम अंसारी के पोते एवं मोमिन कांफ्रेेंस (क्यू) के प्रदेश अध्यक्ष तनवीर अंसारी के चुनाव के मैदान में निर्दलयीय उतरने की चर्चा है।
एनडीए की ओर से यह तय किया जाना बाकी है कि यह विधानसभा क्षेत्र भाजपा, जदूय या लोजपा में से किसके हिस्से में आता है? ये तीनों दल अपने-अपने रथी की तलाश कर रहे हैं। भाजपा के आधा दर्जन से अधिक स्थानीय नेताओं ने पटना में पड़ाव डाल रखा है। पूर्व विधायक सत्यनारायण सिंह यादव, भाजपा लघु उद्योग प्रकोष्ठ के राज्य उपसंयोजक बबल कश्यप, पिछले विधानसभा चुनाव में जीत के करीब मत पाने वाले रिंकू सोनी, जदयू के राज्य नेता राजू गुप्ता आदि इनमें प्रमुख हैं। इनके अलावा जमुहार घराना (सांसद गोपालनारायण सिंह) भी बिना शोर सम्मानजक टिकट मिल जाने की प्रत्याशा में है। लोसपा से डेहरी-आन-सोन वासी पूर्व विधायक बंधु और इस दल के एक वरिष्ठ नेता भी प्रयासरत हैं।
डिहरी विधानसभा क्षेत्र में दो लाख 88 हजार से अधिक मतदाताओं में सबसे अधिक यादव और उसके बाद कोईरी, राजपूत,भूमिहार जाति के करीब 16-16 हजार मत होने का अनुमान हैं। इस क्षेत्र में मुस्लिम मतदाताओं की सघन आबादी भी है, जिनमें मोमिन सर्वाधिक हैं। कायस्थ मतदाताओं की संख्या इस क्षेत्र में दस हजार से अधिक है। इस जाति का मत शहर (डेहरी-आन-सोन) में अधिक सघन है। यह मत-समूह किसी प्रत्याशी की ओर झुका तो कई समीकरण बदल सकते हैं। 2015 में इलियास हुसैन (राजद) को 49 हजार 402, जितेन्द्र कुमार उर्फ रिंकू सोनी (रालोसपा) को 45 हजार 504, प्रदीप जोशी (राष्ट्र सेवा दल) को 29 हजार 541, अशोक कुमार सिंह (भाकपा-माले) को २१९७, संतोष पांडेय (बसपा) को 2154, ब्रजमोहन सिंह (भाकपा) को 1723, उपेंद्र सिंह शक्ति (सपा) को 1529 मत मिले थे। इस बार रालोसपा राजद-कांग्रेस के साथ है और जदयू भाजपा-लोसपा के साथ है।
(रिपोर्ट, , तस्वीर : निशांत राज)

 

पहली बार : एनएमसीएच में हुआ पूर्ण घुटना प्रत्यारोपण

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। जमुहार स्थित नारायण मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल (एनएमसीएच) में अस्थि रोग विभाग में बुजुर्ग का पूर्ण घुटना प्रत्यारोपण कर चलने-फिरने में फिर से सामथ्र्यवान बनाया गया। डेहरी-आन-सोन के अम्बेडकर चौक निवासी 63 वर्षीय व्यक्ति घुटने की बीमारी के कारण बेहद दर्द होने से चलने-फिरने में असमर्थ थे। इनके घुटने का पूर्ण प्रत्यारोपण हास्पिटल के अस्थि रोग विभाग के प्रभारी डा. कुमार अंशुमान और डा. विकास कुमार की टीम ने अपने तकनीकी सहायकों के साथ किया, जो सफल रहा। अस्पताल की ओर से बताया गया है कि पूरे घुटने का अपनी तरह का जटिल प्रतिरोपण बिहार में किसी भी निजी अस्पताल में पहली बार सफलतापूर्वक किया गया है। यह जानकारी देते हुए एनएमसीएच के जनसंपर्क अधिकारी भूपेंद्रनारायण सिंह ने बताया कि बुजुर्ग शिव प्रसाद गुप्ता के घुटने का प्रत्यारोपण राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत के अंतर्गत किया गया, जिसकी अंतर्गत मरीज को निशुल्क स्वास्थ्य चिकित्सा उपलब्ध होती है। एनएमसीएच राज्य का प्रथम निजी संस्थान (अस्पतल) है, जो आयुष्मान भारत के तहत सूचीबद्ध है, जहां मरीजों को बेहद खर्चीला चिकित्सा सेवा भी निशुल्क प्राप्त है।
(रिपोर्ट, तस्वीर : भूपेन्द्रनारायण सिंह, पीआरओ, एनएमसीएच)

 

आम आदमी पार्टी की नई जिला कमेटी गठित

सासाराम (रोहतास)-सोनमाटी संवाददाता। आम आदमी पार्टी के जिला अध्यक्ष गुलाम कुन्दनम ने नई कार्य कारिणी का गठन करते हुए संजीव कुमार को उपाध्यक्ष, दीपक कुमार सिंह, चंदन तिवारी, वंशीधर यादव को महासचिव, सूबेदार दामोदर सिंह को कोषाध्यक्ष और अरविन्द तिवारी को जिला प्रवक्ता बनाया है। पार्टी के जिला प्रकोष्ठों में कावेरी देवी (महिला), विक्की विधायक (युवा), आबिद हुसैन (अल्पसंख्यक), श्रीनिवास राम (अनुसूचित जाति-जनजाति), ओमप्रकाश यादव (पिछड़ा प्रकोष्ठ), निखिल दुबे (शिक्षक), शंकर मोंिहंता (दिव्यांग) और शत्रुघ्न प्रसाद सिंह (किसान) बनाए गए हैं। इनके अलावा करीब एक दर्जन संगठन सचिव और सचिव बनाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.