रोहतासगढ़ : केेंद्र-राज्य के समक्ष पूरी मजबूती से रखा जाएगा पर्वतीय परिसर के विकास का मुद्दा

रोहतासगढ़ (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। केेंद्र सरकार जनजातीय समूह के उत्थान के लिए कृतसंकल्प है। आदिवासी-जनजातीय समूह को पशुपालन के लिए विशेष आर्थिक सहायता दी जा रही है। जनजातियों को समाज की मुख्यधारा से जोडऩे के लिए कई तरह की योजनाएं देश में पहली बार आरंभ की गई हैं। आदिवासी विश्वविद्यालय की स्थापना इसी दिशा में उठाया गया एक दूरगामी कदम है। वनवासियों द्वारा वन क्षेत्र पर अधिकार की लगातार आवाज उठाई जा रही है, जिस पर केेंद्र सरकार के स्तर पर पर्यावरण कानून और उसकी सीमा के मद्देनजर गंभीरता से विचार जारी है। रोहतास प्रखंड मुख्यालय से रोहतासगढ़ परिसर को जोडऩे वाले मार्ग की जर्जर स्थिति को दूर करने और इस पहाड़ी क्षेत्र के विकास के लिए राज्य , केंद्र सरकार दोनों के समक्ष इसके मुद्दे के पूरी मजबूती के साथ रखा जाएगा। ये बातें रोहतास जिले के रोहतासगढ़ (किला परिसर) में आयोजित 13 वें रोहतासगढ़ तीर्थ महोत्सव के समारोह को संबोधित करने वाले अतिथियों की ओर से बताई गई। महोत्सव-समारोह की अध्यक्षता वनवासी सेवा आश्रम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगदेव उरांव ने की। समारोह में एससी-एसटी आयोग के राष्ट्रीय सदस्य योगेंद्र पासवान, छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री गणेश उरांव, गोपालनारायण सिंह विश्वविद्यालय के सचिव गोविन्दनारायण सिंह और जनसंपर्क अधिकारी पत्रकार भूपेंद्रनारायण सिंह, पहल के अध्यक्ष अखिलेश कुमार, पत्रकार मदन कुमार, सामाजिक कार्यकर्ता बीरेन्द्र पासवान, वनसेवा आश्रम, भाजपा के पदाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों ने भी भाग लिया।
(रिपोर्ट, तस्वीर : भूपेंद्रनारायण सिंह, वारिस अली)

एनीकट को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित हो : बबल कश्यप

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-वरिष्ठ संवाददाता। एनिकट स्थित सोननहर प्रणाली के आरंभ-बिन्दु अवशेष की बेसिन में नौका विहार की योजना का क्रियान्वयन करने और उद्यान विकसित करने की मांग भाजपा के लघु उद्योग प्रकोष्ठ के प्रदेश उप संयोजक बबल कश्यप ने बिहार के पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार से की है। इससे पहले उनकी ओर से राज्य सरकार के प्रधान सचिव को ज्ञापन-पत्र भी दिया गया है। बबल कश्यप ने बताया कि पर्यटन विभाग की ओर से एनिकट में नौका विहार की व्यवस्था और पार्क के विकास के बाबत आरंभिक जानकारी मांगी गई है। बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी एनिकट को पहले देख चुके हैं। स्थानीय स्तर पर किसी जनप्रतिनिधि ने इस मुद्दे को नहीं उठाया गया और अधिकारियों की ओर से भी स्वत: पहल नहींकी गई। एनिकट में आज भी सैकड़ों की संख्या में महिला-पुरुष, बूढ़े-बच्चे सुबह-शाम सैर के लिए आते हैं। शादी-विवाह के समय तो यहां हजारों लोगों के आने का सिलसिला होता है। एनिकट में प्राचीनतम शिव मंदिर है, जिसे झारखंडी महादेव मंदिर के नाम से जाना जाता है।
(रिपोर्ट, तस्वीर : वारिस अली)

बिसेनीकला गांव में एनएमसीएच का स्वास्थ्य शिविर

डेहरी-आन-सोन (कार्यालय प्रतिनिधि)। रोहतास जिले के अकोढ़ीगोला प्रखंड के बिसेनीकला गांव में नारायण मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल की ओर से स्वास्थ्य शिविर लगाया गया, जिसमें हास्पिटल के विभिन्न विभागों के चिकित्सकों ने मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया और पैथोलाजी जांच भी की गई। स्वास्थ्य जांच शिविर का उद्घाटन ग्राम पंचायत के मुखिया सिकन्दर सिंह ने किया। अस्पताल प्रबंधक उपेंद्र कुमार सिंह के अनुसार, नेत्र परीक्षण के बाद उन मरीजों को चिह्निïत किया गया, जिनकी आंखों के मोतियाबिंद का आपरेशन अस्पताल में निशुल्क किया जाएगा।
(रिपोर्ट, तस्वीर : भूपेंद्रनारायण सिंह, पीआरओ, एनएमसीएच)

आतंकवादियों के खिलाफ मुस्लिम समाज का आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन

डेहरी-आन-सोन (वरिष्ठ संवाददाता)। पुलवामा में कायराना आतंकी हमले की हमलोग घोर निंदा करते हैं और सीमा पर शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के प्रति सामूहिक संवेदना का सार्वजनिक इजहार करते हैं। यहां मुस्लिम समाज के लोगों ने अपने गुस्से का प्रदर्शन पाकिस्तान मुर्दाबाद, आतंकवादी होश में आओ, पाकिस्तान तेरा खैर नहीं जैसे नारों से किया। अराफात खान के नेतृत्व में हुआ यह सामूहिक प्रदर्शन जक्खी बिगहा, स्टेशन रोड होते हुए थाना चौक पहुंचा, जहां दो मिनट का मौन रखकर सामूहिक श्रद्धांजलि दी गई। इस प्रदशान के संयोजन में अफजल खान, कमरान खान, शाहनवाज खान, शाहरुख खान, साहेब खान, जया खान, सरफराज चौधरी, पप्पू अंसारी, अदनान खान, शाहिद अफरीदी, साकीब अली खान, वाशिम खान आदि ने सहयोग किया।
(रिपोर्ट, तस्वीर : वारिस अली)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.