अम्बष्ट : महान राजवंश के योद्धा मौर्य सम्राट चंद्रगुप्त के समय बिहार (मगध) आए

 संख्या बल में बहुत कम होने के कारण देश की आजादी अर्थात जनतंत्र में चुनिंदा नहीं रह जाने के कारण

Read more

सोन घाटी : जहां सबसे पहले हुई सामूहिक छठ-व्रत की शुरुआत

डेहरी-आन-सोन (बिहार)-कृष्ण किसलय। भारत के तीन नदों में से एक सोन की पर्वत उपत्यका वाली घाटी (बिहार-झारखंड के रोहतास-औरंगाबाद-पलामू) दुनिया

Read more

रोशनी से गुलजार चिमनियों का चमन और पानी के रेले से प्रकंपित सोन की चौड़ी छाती !

=० स्मृतियों का झरोखा ०= दिल्ली से सोनमाटीडाकाम के लिए शिक्षण-लेखन का कार्य करने वाले कौशलेन्द्र प्रपन्न ने इस संस्मरणात्मक

Read more

जयहिन्द-2 : तब बैलगाड़ी के जरिये होता था सड़कों पर फिल्मों का प्रचार

=o स्मृतियों का झरोखा : डेहरी-आन-सोन o= बिहार के डेहरी-आन-सोन में सत्तर साल से तब के अकबरपुर-कोईलवर रोड के पश्चिम

Read more

धरोहर : सौ साल से सांप्रदायिक समरसता की मिसाल बिहार का सिमरी गांव

बिहार में रोहतास जिला के सिमरी गांव के मुस्लिम हिन्दुओं के पर्व को और हिन्दू मुस्लिमों के पर्व को मिलजुल कर

Read more

गांधी : बिहार में हुआ ‘महात्माÓ अवतार, किया आजीवन अधनंगा रहने का फैसला

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150वें जयंती वर्ष पर विशेष संयोजन   गांधी : बिहार में हुआ ‘महात्माÓ अवतार, किया आजीवन

Read more

गौतम बुद्ध से बहुत पहले का है वेदों की भाषा का कालखंड

भारत के सोन नदी अंचल (बिहार) केेंद्रित सोनमाटी मीडिया समूह के अग्रणी न्यूजपोर्टल सोनमाटीडाटकाम (sonemattee.com) पर सासाराम स्थित एसपीजैन कालेज

Read more

हिरणों के इतिहास में शिकारियों की शौर्यगाथाएं आखिर क्यों?

लब्धप्रतिष्ठ भाषा वैज्ञानिक और साहित्य इतिहास लेखक प्रो. राजेन्द्र प्रसाद सिंह सासाराम (बिहार) स्थित शांति प्रसाद जैन महाविद्यालय में हिन्दी

Read more