कविता के कलमकार : कुमार बिन्दु, अख्तर इमाम अंजुम, मिथिलेश दीपक, कृष्ण किसलय

  गजल/ कुमार बिन्दु हर सुबहो-शाम हसीं गुनाह करता हूं। सर झुका के हुस्न को सलाम करता हूं।। जाहिद काफिर

Read more

सासाराम में साहित्य-कला-संगम के मंच पर काव्यपाठ, गाजियाबाद से नीरज त्यागी की कविता

सासाराम (रोहतास)-सोनमाटी संवाददाता। धर्मशाला पथ स्थित महाभारत कोचिंग सेंटर के सभागार में अखिल भारतीय साहित्य एवं कला संगम के तत्वावधान

Read more

होली की शुभकामनाएं : तीन कवियों मिथिलेशकुमार सिंह, कुमार बिन्दु और तूलिका चेतिया येइन की रचनाएं

सोनमाटीडाटकाम के पाठकों के लिए तीन कवियों मिथिलेशकुमार सिंह, कुमार बिन्दु और तूलिका चेतिया येइन की रचनाओं के साथ होली

Read more

जवानों, तुम्हें वतन का शत-शत नमन !

पटना/डेहरी-आन-सोन/दाउदनगर/सासाराम (सोनमाटीडाटकाम टीम)। जम्मू-कश्मीर में बिना युद्ध लड़े आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 44 जवानों के शहीद होने पर पूरे

Read more

वैलेन्टाइन-डे : बहुअर्थी प्रेम-सरोकार-संबंध दिवस पर मौका-ए-खास पेशकश

वैलेन्टाइन-डे विशेष यानी बहुअर्थी प्रेम-सरोकार-संबंध दिवस पर सोनमाटीडाटकाम की मौका-ए-खास पेशकश बिहार और दूसरे प्रदेशों में अखिल भारतीय मंचों पर

Read more

समाज ने क्या दिया : 20वींसदी के आठवें-नौवें दशक में आंचलिक रंगमंच का चर्चित नाटक

समर्पण : ‘समाज ने क्या दियाÓ के प्रथम संस्करण (1977) को इसके लेखक (कृष्ण किसलय) ने सोनमाटी-प्रेस (प्रिंटिंग मशीन) के

Read more

कृष्ण किसलय की दो कविताएं : एक नए साल और दूसरी गुजरे साल के सन्दर्भ में

———————————– आओ सफर फिर शुरू करें ——————————– अहसास अब भी कितना ताजा है कि बहुत खुशनसीब गुजरा था बीते वर्षों

Read more

लोकभाषा/भोजपुरी : कवि कुमार बिन्दु की तीन कविताएं

बिहार में विश्वविश्रुत सोन नद के तट के सबसे बड़े शहर डेहरी-आन-सोन के वरिष्ठ कवि कुमार बिन्दु की लोकभाषा भोजपुरी

Read more