1. बीसवीं सदी में सोनघाटी की रंगयात्रा (किस्त-1)

-वर्तमान बहुचर्चित सांस्कृतिक संस्था अकस (अभिनव कला संगम) का आरंभिक नाम था कला संगम -1988 में ठाकुर कुंजविहारी सिन्हा की

Read more

मैं उस जनपद का कवि…

महत्त्वपूर्ण प्रगतिशील कवि त्रिलोचन की जन्मशताब्दी पर विशेष त्रिलोचन हिंदी की प्रगतिशील काव्य-धारा के सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण कवियों में हैं। उनकी

Read more

आधुनिक हिंदी के निर्माता

स्मृति दिवस (11 नवम्बर ) के मौके पर  आधुनिक हिन्दी के निर्माता आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी बारे में  साहित्यकार द्वय  वीणा भाटिया व मनोज

Read more