कोरोना : आफत की आशंका में सख्ती, ड्रोन से निगरानी / विद्यानिकेतन बांट रहा भोजन / स्कूलों की फीस एक साथ नहीं/ सोन कला केन्द्र का राहत कार्य जारी / संगठित प्रयास जरूरी / संकट में पुरोहित

लाकडाउन (पार्ट-2) में सख्ती, कार्य और सार्वजनिक स्थल पर मास्क जरूरी

सासाराम/डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। रोहतास जिला के तबलीगी जमात और बिहारशरीफ मजहब जमात से जुड़े डेढ़ दर्जन लोगों की कोरोना जांच निगेटिव आने से राहत महसूस की जा रही थी, मगर दक्षिणवर्ती पड़ोसी जिला बक्सर में दो कोरोना पाजिटिव मिलने के बाद हालत आफतशुदा होने की आशंका हो गई है। इसके बाद जिलाधिकारी पंकज दीक्षित की ओर से लाकडाउन के दूसरे चरण को अत्यंत सख्ती से पालन करने का निर्देश सभी अधिकारियों को दिया गया है। लाकडाउन (पार्ट-1) की अवधि 14 अप्रैल तक संग्रहित कोरोना संदिग्धों के 454 रक्त नमूनों में से 312 की रिपोर्ट निगेटिव है। शेष 142 रिपोर्ट की पटना से आने की प्रतीक्षा है। इनमें गेहूं की कटाई के लिए बाहर से आए हार्वेस्टर चालकों की रिपोर्ट भी है, जो रोहतास जिला में पहुंचने पर 14 दिन क्वारंटाइन में रखे गए थे। गेहूं कटाई के लिए हरियाणा-पंजाब और अन्य जगहों से 306 हार्वेस्टर चालकों के लिए अनुमति-पत्र जिला प्रशासन ने जारी किया है। कार्यालय, कार्यस्थान और घर से बाहर सार्वजनिक स्थान पर जाने पर मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। जिला परिवहन पदाधिकारी मोहम्मद जिया उल्लाह ने पेट्रोल पंपों को बिना मास्क पहनकर आए दो पहिया, चार पहिया वाहनों में पेट्रोल नहीं देने का आदेश जारी किया है।
ड्रोन से गांवों-रास्तों की निगरानी : बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश सीमा की पहुंच वाले यदुनाथपुर के इलाके में निगरानी ड्रोन कैमरे से निगरानी सेसीआरपीएफ कर रही है। सीआरपीएफ की टीम जारूरतमंदों की पहचान कर खाद्य और राहत सामग्री भी पहुंचा रही है। भारतीय रेल की ओर से अकोढ़ी गोला प्रखंड के मुडिय़ार गांव की निगरानी भी ड्रोन कैमरे से की जा रही है। पंडितदीनदयाल उपाध्याय रेल मंडल द्वारा कोराना के दौरान गोद लिए गांव मुडियार में जरूरतमंदों को राहत सामग्री इस गांव के निवासी और वरिष्ठ रेलकर्मी वीरेन्द्र पासवान के नेतृत्व में सोशल डिस्टेन्स का पालन करते हुए बांटी गई। रेल मंडल के अंतर्गत डेहरी-आन-सोन रेलवे स्टेशन, इससे सबंद्ध दफ्तरों और रेलवे आवासीय कालोनी को सैनिटाइज्ड किया गया है। पंडितदीनदयाल उपाध्याय रेल मंडल पर्सनल प्रोटेक्शन इक्युपमेेन्ट (पीपीई) भी तैयार कर रहा है। इस रेल मंडल द्वारा मई तक 30 हजार पीपीई बनाने का लक्ष्य निर्धारित है।
सोन कला केन्द्र का राहत कार्य जारी : सोन कला केन्द्र के संरक्षक वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ चिकित्सक डा. रागिनी सिन्हा, वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डा. एसबी प्रसाद, संरक्षक अरुण गुप्ता (कारपोरेट कंसलटेन्ट), संरक्षक उदय शंकर (मोहिनी समूह), राजीव रंजन (सनबीम स्कूल) के साथ संस्था के संरक्षक स्थानीय विधायक सत्यनारायण सिंह यादव भी संभव आर्थिक सहायता, निशुल्क चिकित्सा और राहत के विभिन्न कार्य कर रहे हैं। सोन कला केन्द्र के अध्यक्ष दयानिधि श्रीवास्तव ने बताया है कि संस्था के संरक्षकों, पदाधिकारियों द्वारा अपने-अपने स्थान पर लाकडाउन नियमों का पालन करते हुए स्वास्थ्य, आर्थिक सहायता और राहत कार्य के लिए सक्रियता जारी है।
सामूहिक संगठित प्रयास जरूरी : वरिष्ठ मनोचिकित्सक, चित्रगुप्त समाज कल्याण ट्रस्ट के अध्यक्ष डा. उदय कुमार सिन्हा और मनोविज्ञानी डा. मालिनी राय ने फेसबुक संदेश में कहा है कि महामारी संक्रमण के दौर में हम सबको संगठित प्रयास के जरिये जरूरतमंदों की ओर सामूहिक सहयोग का हाथ बढ़ाए रखना चाहिए। चंूकि संक्रमण-श्रृंखला तोडऩे के लिए पूर्णबंदी (लाकडाउन) जरूरी है, इसलिए यह ध्यान रखना चाहिए कि आस-पास के समाज के आखिरी पायदान का कोई परिवार भूख से परेशान नहींहोने पाए और उस तक भुखमरी की नौबत तोकभी पहुंचने ही नपाए।
संकट में हैं पुरोहित : डेहरी अनुमंडल विधिज्ञ संघ के पूर्व अध्यक्ष, वरिष्ठ अधिवक्ता उमाशंकर पांडेय ने पुजारियों के बेरोजगार होने के प्रति प्रशासन और समाज का ध्यान आकृष्ट कराया है। उन्होंने कहा है कि शादी-विवाह के स्थगित होने के साथ मंदिरों में श्रद्धालुओं का आगमन और घरों में पुरोहितों-पुजारियों द्वारा कराया जाने वाला यज्ञ-अनुष्ठान के बाधित होने से पूजा-पाठ के जरिये दैनिक कमाई करने वाले पुजारियों का तबका लाकडाउन के दौरान बड़ी परेशानी झेल रहा है।
(रिपोर्ट, तस्वीर : निशान्त राज)

विद्या निकेतन विद्यालय समूह बांट रहा भोजन पैकेट

दाउदनगर (औरंगबाद)-कार्यालय प्रतिनिधि। स्थानीय पुलिस के साथ भारत स्काउट और गाइड के चार दर्जन प्रतिनिधि बैंकों के मुख्य द्वार पर सामाजिक जवाबदेही के तहत राहत कार्य में जुटे हुए हैं। बैंकों की शाखाओं और ग्राहक सेवा केन्द्रों के सामने सरकार द्वारा जनधन खातों में डाली गई रकम को निकालने के लिए सुबह सात-आठ बजे से ही लोग कतारबद्ध हो जाते हैं। पुलिसकर्मी और स्काउट-गाइड प्रतिनिधि खाताधारकों से सोशल डिस्टेन्स का पालन करने के लिए रोज जूझ रहे हैं। इन्हींपुलिसकर्मियों और स्काउट-गाइड प्रतिनिधियों को दिन के भोजन का पैकेट देने का कार्य विद्यानिकेतन विद्यालय समूह ने शुरू किया है। यह कार्य स्थानीय प्रशासन और थाना की इजाजत लेकर सीईओ आनन्द प्रकाश, डिप्टी सीईओ विद्या सागर और तकनीकी सलाहकार विनय प्रकाश के नेतृत्व में प्राचार्य सरयू प्रसाद (विद्या निकेतन), प्रिंसपल मोजाफिर आलम (किड्स वल्र्ड), प्राचार्य सूरजमोहन लाल दास (संस्कार विद्या), सुमित कुमार सोनी, अनिल कुमार आदि की टीम कर रही है। विद्या विद्यालय समूह के अध्यक्ष सुरेश कुमार गुप्ता ने बताया है कि लाकडाउन (पार्ट-वन) के दौरान 14 अप्रैल तक विद्यालय समूह की ओर से मास्क वितरण कर जागरूकता अभियान चलाया गया और अब लाकडाउन (पार्ट-2) में जगह-जगह भोजन वितरण हो रहा है। प्रखंड विकास पदाधिकारी मोहम्मद जफर इमाम ने भोजन पैकट वितरण को विद्यालयसमूह की सामाजिक जिम्मेदारी के तहत मानवसेवा का बेहतर कार्य बताया है।
(रिपोर्ट, तस्वीर : निशान्त राज)

प्राइवेट स्कूल एक साथ नहीं लेंगे तीन महीनों की फीस

सासाराम (सोनमाटी संवाददाता)। प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफयर एसोसिएशन के प्रदेश महामंत्री डा. एसपी वर्मा ने केंद्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरीयाल निशंक के आग्रह का स्वागत करते हुए यह बतायाा है कि रोहतास जिला के सभी 19 प्रखंडों में संचालित विद्यालयों ने तीन महीने की मासिक शिक्षण शुल्क एक साथ नहीं लेने का निर्णय एसोसिएशन की रोहतास जिला कार्यकारिणी समिति ने लिया है। इस संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सैयद शमाएल अहमद ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बिहार के शिक्षा मंत्री को उचित दिशा-निर्देश देने का निवेदन किया है, ताकि सभी छोटे-बड़े निजी विद्यालय संचालकों-अभिभावकों के बीच मौजूद भ्रम की स्थिति दूर हो जाए। इस निर्णय का समर्थन प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की रोहतास जिला इकाई के अध्यक्ष रोहित वर्मा, उपाध्यक्ष सुभाष कुमार कुशवाहा, सचिव समरेंद्र कुमार, सह सचिव संग्राम कांत, महामंत्री अनिल कुमार शर्मा, सुनील कुमार, संजय त्रिपाठी, कोषाध्यक्ष कुमार विकास प्रकाश, जिला संयोजक धनेन्द्र कुमार, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी दुर्गेश पटेल और अन्य पदाधिकारियों-सदस्यों ने किया है। एसोसिएशन के रोहतास जिला अध्यक्ष रोहित वर्मा ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर 03 मई तक के लिए लाकडाउन के अंतर्गत निजी विद्यालय बंद हैं, मगर इनमें आनलाइन पठन-पाठन संचालित हो रहा है।
(रिपोर्ट, तस्वीर : अर्जुन कुमार, मीडिया प्रभारी, प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.