सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

संतपाल में चुनाव पाठशाला संवाद, नारायण नर्सिंग कालेज में स्वास्थ्य सेवा प्रशिक्षण

सासाराम (रोहतास)-सोनमाटी संवाददाता। लोकतंत्र का महापर्व आम चुनाव 2019 के अंतर्गत संतपाल सीनियर सेकेंडरी स्कूल के उमा आडिटोरियम में 10वीं-12वींवर्ग के विद्यार्थियों के साथ मतदाता जागरूकता और मतदान की अनिवार्यता से संबंधित चुनाव पाठशाला कार्यक्रम का संयोजन किया गया, जिसमें छात्र-छात्राओं ने एसडीएम राजकुमार गुप्ता और अन्य अतिथियों के साथ जिज्ञासापूर्ण संवाद किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता विद्यालय के अध्यक्ष डा. एसपी वर्मा ने की और उन्होंने कहा कि चुनाव, मतदान से संबंधित जानकारी से छात्र-छात्राओं को अवगत कराना इस कार्यक्रम का उद्देश्य है। मुख्य अतिथि एसडीएम राजकुमार गुप्ता ने अपने संबोधन में कहा कि मतदान का प्रतिशत अधिक से अधिक होना चाहिए, ताकि लोकतंत्र की व्यवस्था में सबकी सहमति शामिल हो सके।

चुनाव पाठशाला में जानकारों और अतिथियों के साथ छात्र-छात्राओं की चुनावचिह्नï, बैलेट पेपर, ईवीएम, मतदान प्रक्रिया के साथ जनप्रतिनिधि के चयन और क्षेत्रीय विकास पर लंबी चर्चा हुई। वक्ताओं ने बताया कि विद्यार्थियों से मतदान के लिए अपने घर और आसपास के मतदाताओं को प्रेरित करने पर संवाद कर बताया गया कि लोकतंत्र में चुनाव और मतदान का क्या महत्व है? चुनाव पाठशाला कार्यक्रम के संयोजन में संतपाल सीनियर सेकेेंडरी स्कूल के प्रबंधक रोहित वर्मा, लायंस क्लब के गौतम कुमार, अभिषेक राय, दीपक वर्मा, सुशील कुमार सोनी, अमरजीत कुमार, रीचा सिंह, अखिलेश मिश्र, अमीत परमानी, अभिमन्यु सिंह, शिक्षक सह मीडिया प्रभारी अर्जुन कुमार ने सक्रिय भूमिका का निर्वाह किया।

इंटरनेशनल नर्सेज-डे : आपातकालीन स्वास्थ्य सेवा पर विशेष सर्टिफिकेट कार्यक्रम

डेहरी-आन-सोन (कार्यालय संवाददाता)। अंतरराष्ट्रीय नर्सेज-डे पर जमुहार स्थित नारायण नर्सिंग कालेज में सभी प्रतिभागियों के लिए एक दिवसीय सर्टिफिकेट प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें बताया गया कि आपातकालीन स्वास्थ्य सेवा के लिए मरीज के साथ व्यवहार में क्या किया जाना चाहिए और किसी आपात स्थिति में आरंभिक तौर पर किन चिकित्सकीय चीजों की जरूरत होती है? कार्यक्रम का उद्घाटन गोपालनारायण सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति डा. एमएल वर्मा, संस्थान के सचिव गोविंद नारायण सिंह और आइएमए (बिहार) के मुख्य सचिव अजय कुमार ने संयुक्त रूप से किया। नारायण नर्सिंग कालेज के प्रभारी प्राचार्य नितेश कुमार ने बताया कि एक सप्ताह से चल रहे विभिन्न आयोजन का समापन अंतरराष्ट्रीय नर्सेज-डे के अवसर पर किया गया, जिसके अंतर्गत वाद-विवाद प्रतियोगिता, रंगोली, क्वीज, पोस्टर कंपटीशन भी संपन्न हुए। प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम संयोजन में डा. मोहम्मद तूफान-उल-जोहा, डा. अशोक कुमार, सीमा रंजन आशुतोष तिवारी आदि ने योगदान किया।
(रिपोर्ट, तस्वीर : भूपेंद्रनारायण सिंह, पीआरओ)

 

स्वास्थ्य चिकित्सा के लिए महत्वपूर्ण नर्सिंग सेवा, मगर राज्य में नर्सों की कमी

सासाराम (रोहतास)-सोनमाटी प्रतिनिधि। आधुनिक नर्सिंग की जनक फ्लोरेंस नाइटिंगेल की याद में देश और दुनिया में नर्स-डे प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है। हर वर्ष नर्स-डे के लिए अलग थीम तय की जाती है। इस वर्ष की थीम थी- द बैलेंस आफ माइंड, बाडी एंड स्पिरिट। वर्ष 1974 में 12 मई को अन्तराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाने का निर्णय लिया गया था। नर्सिंग आज विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सेवा है। रोगियों को शारिरिक, मानसिक रूप से राहत पहुंचाने में नर्सों का योगदान महत्वपूर्ण है। इस मौके पर सासाराम सदर प्रखंड के एएनएम अर्चना कुमारी ने बताया कि नर्सिंग सेवा की अनिवार्यता और विस्तार के बावजूद राज्य की सरकारी स्वास्थ्य इकाइयों में नर्सों की कमी है। इसके लिए प्रशिक्षण संस्थान का विस्तार जरूरी है। बिहार नर्सेस रजिस्ट्रेशन काउंसिल के आंकड़े के अनुसार राज्य में सरकारी और निजी संस्थान 141 नर्स प्रशिक्षण संस्थान हैं, जिनमें सरकारी संस्थान 46 और निजी संस्थान 95 हैं।
(प्रस्तुति : संजीव कुमार सिंह)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!