सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

संतपाल के साक्षी, आदित्य, ईशा 12वीं में अग्रणी/ बीएड कालेज में आनलाइन कार्यशाला/ संस्कार विद्या के आकाश, अनु स्कूल टापर

साक्षी आलोक साइंस, आदित्य अग्रवाल कामर्स में, ईशा चौहान बायोलाजी में टापर

सासाराम (रोहतास)-सोनमाटी संवाददाता। सीबीएसई की बारहवीं की परीक्षा में दक्षिण बिहार का सबसे बड़ा सीबीएसई संबद्ध निजी विद्यालय संतपाल स्कूल की साक्षी आलोक मैथ में 95.4 और आदित्य अग्रवाल एकाउंटेसी में 94.5 प्रतिशत अंक प्राप्त कर टाप किया है। साइंस स्ट्रीम में अमृत राज और शुभम वर्मा ने क्रमश: 94.2 और 93.4 प्रतिशत अंक प्राप्त कर द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त किया है। बायोलाजी में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पाने वाली कुमारी इशा चौहान, नित्या सिंह और अन्नू प्रिया ने क्रमश: 92.2, 88.6 और 85.6 प्रतिशत अंक प्राप्त किया है। कामर्स में आनंद कुमार मिश्रा और कृतिका ने क्रमश: 93.5 और 92.6 प्रतिशत अंक पाकर द्वितीय और तृतीय स्थान पाया है। फिजिक्स में विद्यालय के जसप्रीत सिंह ने 95 फीसदी, केमेस्ट्री में साक्षी आलोक ने 95 फीसदी, फिजिकल एजुकेशन में आनंद कुमार मिश्रा ने 99 फीसदी, संस्कृत में कार्तिक ने 98 फीसदी और उर्दू में जनफेशा जाहरा, हीना फातमी ने 95 फीसदी अंक प्राप्त कर अग्रणी स्थान बनाया है।

(रिजल्ट की स्क्रीनिंग करते डा. एसपी वर्मा, रोहित वर्मा, अराधना वर्मा और अन्य)

विद्यार्थियों की सफलता की शुभकामना : विद्यालय की प्राचार्य आराधना वर्मा ने बताया है कि 90 प्रतिशत से ऊपर अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों में साइंस के साक्षी आलोक, अमृत राज, शुभम वर्मा, कुमारी इशा चौहान, अभिषेक आनंद और जसप्रीत हैं, जबकि कामर्स के आदित्य अग्रवाल, आनंद कुमार मिश्रा, कृतिका, काव्या पांडेय और मान्या हैं। विद्यालय के चेयरमैन डा. एसपी वर्मा ने बारहवीं साइंस और कामर्स में संतपाल स्कूल के विद्यार्थियों की सफलता पर कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण सीबीएसई ने मेरिट लिस्ट जारी नहीं किया है। विद्यार्थियों ने परिश्रम कर बारहवीं की रिजल्ट में अच्छी सफलता अर्जित की है। विद्यालय के प्रबंधक रोहित वर्मा, सचिव वीणा वर्मा, वरिष्ठ शिक्षकों आरजी तिवारी, सुमिता आईंच, धीरज तिवारी, राजीव कुमार, एसएन चौबे, अर्जुन कुमार, सान्या शर्मा, सानवी मिश्रा आदि ने विद्यार्थियों की सफलता की शुभकामना दी है।

रिपोर्ट, तस्वीर : अर्जुन कुमार, मीडिया प्रभारी, संतपाल स्कूल

‘नई तालीम’ है महात्मा गांधी की अवधारणा

दाउदनगर (औरंगाबाद)-कार्यालय प्रतिनिधि। भगवानप्रसाद शिवनाथप्रसाद बीएड कालेज में महात्मागांधी नेशनल काउंसिल आफ रूरल एजुकेशन (एमजीएनसीआरई) के सौजन्य से आनलाइन वर्कशाप (नई तालीम) का आयोजन किया गया। कार्यशाला को मुख्य वक्ता अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए एमजीएनसीआरई के अध्यक्ष डा. डब्लूजी प्रसन्ना कुमार, मगध विश्वविद्यालय (बोधगया) के कुलपति डा. राजेंद्र प्रसाद और दाउदनगर कालेज के प्राचार्य प्रो. एमएस इस्लाम ने कहा कि नई तालीम की विकास केंद्रित अवधारणा महात्मा गांधी की है, जिसमें व्यक्ति के मन, शरीर और आत्मा के समन्वय पर बल दिया गया है। इसलिए भारत को बहुआयामी आत्मनिर्भर बनाने के लिए महात्मा गांधी की नई तालीम के मूल मंत्र को समझना आवश्यक है। डा. संजीव कुमार पांडेय (एसोसिएट प्रोफेसर, डिपार्टमेंट आफ एजुकेशन, मगध विश्वविद्यालय, बोधगया), डा. श्रवण कुमार (प्रवक्ता, डाइट भोजपुर), डा. देवेंद्रनाथ दास, संजय कुमार (नोडल आफिसर, मगध विश्वविद्यालय, बोधगया), भगवानप्रसाद शिवनाथप्रसाद बीएड कालेज के प्रवक्ता पंकज कुमार, रामचंद्र यादव ने भी कार्यशाला में अपने आनलाइन विचार रखे और कार्यशाल में भाग लेने वाले संस्थान प्रतिभागियों के प्रश्नों के उत्तर दिए।

(बायें से निशांत कुमार, डा. अमित कुमार)

06 घंटे चली कार्यशाला, 75 प्रतिभागी शामिल : आरंभ में कालेज के सचिव डा. प्रकाश चंद्र और एमजीएनसीआरई के सहायक निदेशक डा. देवेंद्रनाथ दास ने कार्यशाला के अतिथियों-प्रतिभागियों का स्वागत किया। अंत में कालेज के प्राचार्य डा. अमित कुमार ने धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यशाला का आयोजन कालेज के प्राचार्य की देख-रेख और निशांत कुमार की तकनीकी दक्षता के सहयोग से किया गया। लगभग 06 घंटे चली इस कार्यशाला में भगवानप्रसाद शिवनाथप्रसाद बीएड कालेज से जुड़े 75 प्रतिभागी शामिल हुए।

संस्कार विद्या : आकाश और अनु स्कूल टापर

(आकाश गुप्ता)

दाउदनगर (औरंगाबाद) में संस्कार विद्या (नालेज सिटी) के आकाश गुप्ता ने सीबीएसई परीक्षा में 95 प्रतिशत अंक पाकर स्कूल में प्रथम और अनु प्रिया ने 94 प्रतिशत अंक पाकर द्वितीय स्थान प्राप्त किया है। विद्यालय के सीएमडी सुरेश कुमार गुप्ता ने बताया कि परीक्षा में शामिल हुए 160 विद्यार्थियों में 55 ने 80 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किया है। स्कूल के सीईओ आनंद प्रकाश और डिप्टी सीईओ विद्यासागर ने कहा की परीक्षा विद्यार्थियों के भविष्य और लक्ष्य को निर्धारित करता है। हर एक परीक्षा की यह सीख भी होती है कि मन मुताबिक परिणाम नहीं आने पर हतोत्साहित नहीं होना चाहिए बल्कि भविष्य के लिए मजबूत रणनीति बनानी चाहिए। विद्यालय के प्राचार्य एसएमएल दास ने विद्यार्थियों की सफलता पर उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी।

रिपोर्ट, तस्वीर : निशांत राज

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!