मिशन साहसी छात्राओं का आत्मबल जगाने वाला कार्यक्रम

दाउदनगर/औरंगाबाद (बिहार)-सोनमाटी समाचार टीम। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नगर अध्यक्ष चंचल मिश्र ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि मिशन साहसी कार्यक्रम छात्राओं को आत्मरक्षा के मामले में आत्मनिर्भर बनाने का कार्यक्रम है। आज छात्राएं कहीं-न-कहीं समाज में किसी-न-किसी अप्रिय घटना का शिकार हो रही हैं। इसके पीछे का बड़ा कारण छात्राओं में आत्मविश्वास की कमी का होना भी है। जिस दिन छात्राओं का आत्मविश्वास जाग उठेगा, मन में निडरता का स्थाई वास हो जाएगा और विषम परिस्थिति में विवेक से संघर्ष की क्षमता विकसित होगी, वह दिन नारीशक्ति की जीत का होगा।
अभाविप के नगर मंत्री रवि यादव ने बताया कि नारी सशक्तिकरण की दिशा में मिशन साहशी एक अच्छा सामाजिक-व्यक्तिगत उपक्रम है। इसका प्रशिक्षण पाने के बाद लड़कियां असहज महसूस नही करेंगी। मिशन साहशी शहर एक नया दिशा देगा। सुमित भारती ने बताया कि इससे छात्राएं असमाजिक तत्वों का मुकाबला करने में समर्थ होंगी। छात्राओं द्वारा असामाजिक तत्वों को जवाब मिलेगा, महिलाओं-छात्राओं के साथ होने वाली छेडख़ानी पर विराम लगेगा। छात्राएं इसमें शामिल हो प्रशिक्षित प्रशिक्षकों से आत्मरक्षा के तरीकों को सीख कर समाज को एक मिशाल प्रस्तुत करें।
चंचल मिश्र ने बताया कि न मिशन साहसी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का राष्ट्रव्यापी अभियान है। 23 से 29 अक्टूबर तक नगर में प्रशिक्षण शिविर का आयोजन होगा, जिसमें जुडो-कराटे के प्रशिक्षक छात्राओं को ट्रेनिंग देंगे। इसके लिए 8 अक्टूबर से शैक्षणिक संस्थाओं में रजिस्ट्रेशन जारी है, जो 15 अक्टूबर तक चलेगा। शिक्षण संस्थान में साहसी अभियान के कार्यक्रम को लेकर छात्राओं में उत्साह देखा गया है। प्रेस कान्फ्रेन्स में अभाविप के नगर उपाध्यक्ष संदीप कुमार मिश्रा, छात्र संघ के कोषाध्यक्ष धीरज कुमार, सोशल मीडिया के प्रभारी रोशन कुमार उपस्थित थे।

 

कौशल प्रदर्शन समारोह औरंगाबाद के गेट स्कूल मैदान में

औरंगाबाद (सोनमाटी समाचार)। विद्यार्थी परिषद की प्रान्त छात्रा सह-प्रमुख एवं सिन्हा कॉलेज छात्र संघ की अध्यक्ष आशिका कुमारी और औरंगाबाद जिला मिशन साहसी प्रमुख एवं किशोरी सिन्हा महिला कॉलेज छात्र संघ की अध्यक्ष प्रेरणा सुमन ने बताया है कि राष्ट्रीय स्तर पर छात्राओं की आत्मरक्षा एवं उनमें आत्मविश्वास भरने के लिए अभाविप द्वारा देशस्तर पर चलाया गया अभियान है। शहर में मिशन साहसी अभियान के अंतर्गत विद्यालयों और महाविद्यालयों के निबंधित छात्राओं को 23 से 29 अक्टूबर तक प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षित करने वालों में जूडो-कराटे, एनसीसी फिजिकल एजुकेशन से जुड़े विशेषज्ञ, पुलिस ट्रेनर आदि होंगे। प्रशिक्षण का कार्यक्रम छात्राओं के विद्यालय और महाविद्यालय परिसर में ही होगा। प्रशिक्षण कार्यक्रम के बाद प्रशिक्षण में शामिल सभी छात्राओं के लिए कौशल प्रदर्शन समारोह का आयोजन औरंगाबाद के गेट स्कूल के मैदान में होगा।

(रिपोर्ट, तस्वीर संयोजन : उपेन्द्र कश्यप, निशान्त राज)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *