सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्मोत्सव, बिहार में 10 सदस्यीय निर्णायकमंडल : प्रसिद्ध लेखक शैवाल अध्यक्ष; कृष्ण किसलय, चंद्रभूषण मणि और संतोष बादल भी शामिल

दिल्ली/दाउदनगर/डेहरी-आन-सोन (सोनमाटी टीम)। बिहार में पहली बार धर्मवीर फिल्म एंड टीवी प्रोडक्शन और विद्या निकेतन विद्यालयसमूह द्वारा दाउदनगर में तीन दिवसीय बिहार अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्मोत्सव-2020 में बाल विषयों पर लघु फीचर, एनिमेशन और डाक्युमेंट्री फिल्में प्रदर्शित होंगी। फिल्मोत्सव में फिल्म में कैरियर बनाने के गुर बताए जाएंगे। कार्टून विधा पर कार्यशाला होगी। विद्यार्थियों से संबंधित विभिन्न सांस्कृतिक संयोजन भी होंगे। प्रदर्शित फिल्मों के लिए लेखन, निर्देशन, अभिनय, निर्माण-प्रस्तुति, तकनीकी दक्षता आदि के लिए पुरस्कार दिए जाएंगे।
फिल्मोत्सव-2020 के संयोजन अध्यक्ष और धर्मवीर फिल्म एंड टीवी प्रोडक्शन के संस्थापक डा. धर्मवीर भारती के अनुसार, इसके निर्णायकमंडल में फिल्म और लेखन जगत की 10 हस्तियां हैं, जिसके अध्यक्ष मृत्युदंड, दामुल, पर्वतपुरुष जैसी फिल्मों के प्रसिद्ध लेखक गया शहर वासी शैवाल हैं। फिल्मोत्सव के निर्णायकमंडल में डेहरी-आन-सोन के वरिष्ठ विज्ञान लेखक-स्तंभकार एवं ‘सोनमाटीÓ के समूह संपादक कृष्ण किसलय और डेहरी-आन-सोन के ही वरिष्ठ भोजपुरी फिल्म लेखक-निर्देशक चंद्रभूषण मणि के साथ दाउदनगर के अग्रणी युवा टीवी सीरियल निर्देशक-लेखक-निर्माता संतोष बादल शामिल हैं। बीसवीं सदी के 8वें-9वें दशक में रंगमंच पर सक्रिय रहे कृष्ण किसलय ने भोजपुरी फिल्म ‘गंगा करे इंसाफÓ में अभिनय और पांच वर्ष तक अखिल भारतीय नाटक प्रतियोगिता का बतौर अध्यक्ष संचालन किया था। तब उन्होंने चर्चित नाटक ‘समाज ने क्या दियाÓ और ‘आवाज गूंज उठीÓ के साथ बिहार राज्य यक्ष्मा संघ के लिए टेलीफिल्म पटकथा-संवाद लिखे थेे। नवभारत टाइम्स, अमर उजाला, दैनिक जागरण, दैनिक प्रभात में रोहतास- कैमूर, वाराणसी, देहरादून, मेरठ में जिला संवाददाता, उप संपादक, सीनियर पालिटिकल रिपोर्टर और एसोसिएट एडीटर रहे कृष्ण किसलय की ‘सुनो मैं समय हूंÓ बच्चों के लिए भी चर्चित विज्ञान पुस्तक है। भोजपुरी फीचर फिल्मों ‘गंगा मइया तोहे चुनरी चढ़इबोÓ, ‘बेटी उधार केÓ के लेखक, वरिष्ठ निर्देशक चंद्रभूषण मणि ने 20वींसदी के 7वें-8वें-9वें दशक में नाटकों का लेखन-निर्देशन के साथ अखिल भारतीय नाटक प्रतियोगिता का संचालन भी किया था। निर्णायक-मंडल में शामिल फिल्म-टीवी के वरिष्ठ अभिनेता आरिफ शहडोली कई राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय फिल्म उत्सवों के संयोजन-सदस्य रह चुके हैं। इनके अलावा बिहार अंतरराष्ट्रीय फिल्मोत्सव-2020 के निर्णायकमंडल में वरिष्ठ सिने फोटोग्राफर-निर्देशक अशोक मेहरा, उडिय़ा-बंंग्ला फिल्मों के निर्देशक माधबचंद्र परिडा, फिल्म निर्माता-निर्देशक निर्भय सिंह चौधरी, फिल्म निर्माता अमृत सिन्हा और फिल्म-टीवी-रंगमंच अभिनेत्री अवनी वर्मा शामिल हैं।

बिहार अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म फेस्टिवल-2020 के संयोजन निदेशक और विद्या निकेतन विद्यालयसमूह के डिप्टी सीईओ इंजीनियर विद्या सागर के अनुसार, समारोह के संयोजन-संचालन के लिए ढाई दर्जन चुनिंदा लोगों की टीम बनाई गई है, जिनमें विद्या निकेतन विद्यालयसमूह के अध्यक्ष सुरेशकुमार गुप्ता, वरिष्ठ समाजसेवी एवं बीएड कालेज के सचिव डा. प्रकाश चंद्रा और विद्या निकेतन के सीईओ आनंद प्रकाश संरक्षक हैं। 4, 5, 6 जनवरी को हो रहे फिल्मोत्सव की संयोजन टीम में डाली भारती प्रस्तुति निदेशक, रणवीर कुमार आपरेशन प्रमुख, पप्पू प्रकाश कार्यक्रम समन्वयक और विशाल राय तकनीकी समन्वयक हैं। प्रतिष्ठित विद्या निकेतन विद्यालयसमूह इसका मुख्य प्रायोजक है। दिल्ली के कार्टूनिस्ट मनोज पंडित द्वारा फिल्मोत्सव के बनाए गए कार्टून-पोस्टर दिल्ली, दाउदनगर में रिलीज हो चु के हैं।

(रिपोर्ट, तस्वीर : उपेेन्द्र कश्यप /निशांत राज)

One thought on “अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्मोत्सव, बिहार में 10 सदस्यीय निर्णायकमंडल : प्रसिद्ध लेखक शैवाल अध्यक्ष; कृष्ण किसलय, चंद्रभूषण मणि और संतोष बादल भी शामिल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!