सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्मोत्सव 7, 8, 9 को / सोन महोत्सव मार्च में / दवा दुकानें तीन दिन बंद

बिहार फिल्मोत्सव-2020 : देश-विदेश की 35 फिल्में सूचीकृत

पटना/दाउदनगर/डेहरी-आन-सोन (सोनमाटी टीम)। बिहार में पहली बार धर्मवीर फिल्म एंड टीवी प्रोडक्शन और विद्या निकेतन विद्यालय समूह द्वारा तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्मोत्सव-2020 दाउदनगर में 7, 8, 9 फरवरी को होगी। प्रतियोगिता श्रेणी में प्रदर्शित फिल्मों के लिए लेखन, निर्देशन, अभिनय, निर्माण-प्रस्तुति, तकनीकी दक्षता आदि के लिए 12 पुरस्कार दिए जाएंगे। इसमें बाल विषयों पर लघु फीचर, एनिमेशन और डाक्युमेंट्री फिल्में प्रदर्शित होंगी। फिल्म में कैरियर बनाने के गुर बताए जाएंगे। दिल्ली के कार्टूनिस्ट मनोज पंडित द्वारा कार्टून विधा पर कार्यशाला होगी। बच्चों से संबंधित अन्य सांस्कृतिक संयोजन भी होंगे। फिल्मोत्सव-2020 के संयोजन अध्यक्ष धर्मवीर फिल्म एंड टीवी प्रोडक्शन के निर्देशक डा. धर्मवीर भारती ने बताया कि अमेरिका, इंग्लैंड और नेपाल में निर्मित तीन फिल्म सहित 35 फिल्में प्रदर्शन के लिए सूचीकृत की गई हैं। इनमें 24 फिल्में प्रतियोगिता का हिस्सा होंगी। तीन दिवसीय फिल्मोत्सव का आरंभ ‘एक अप्रैल : अल्कोहल फ्रीडम डे आफ बिहारÓ (निर्देशक धर्मवीर भारती) से और अंत पटना के चर्चित गणितज्ञ आनंद कुमार के जीवन पर बनी पूर्ण बायोपिक फिल्म ‘सुपर-30Ó (निर्देशक विकास बहल) से होगा।
डा. धर्मवीर भारती ने बताया कि फिल्मोत्सव के निर्णायक मंडल में फिल्म-टीवी के वरिष्ठ चर्चित अभिनेता आरिफ शहडोली के साथ प्रसिद्ध फिल्म लेखक शैवाल (गया), वरिष्ठ विज्ञान लेखक-नाटककार कृष्ण किसलय (डेहरी-आन-सोन), वरिष्ठ भोजपुरी फिल्म लेखक-निर्देशक चंद्रभूषण मणि (डेहरी-आन-सोन), टीवी सीरियल निर्देशक-अभिनेता संतोष बादल (दाउदनगर) और बिहार से बाहर के वरिष्ठ सिने फोटोग्राफर-निर्देशक अशोक मेहरा, उडिय़ा-बंंग्ला फिल्म निर्देशक माधबचंद्र परिडा, फिल्म निर्माता-निर्देशक निर्भय सिंह चौधरी, फिल्म निर्माता अमृत सिन्हा, फिल्म-टीवी-रंगमंच अभिनेत्री अवनी वर्मा शामिल हैं। डा. भारती के अनुसार, प्रतियोगिता से अलग से प्रदर्शित होने वाली फिल्मों में डिग्री (निदेशक एमके पप्पू), जर्नी आफ सोल (आयुष आनंद), बहुरूपिया (इमरान अली), प्रोजेक्ट योरसेल्फ (पप्पू रायल), पेपर (अंकित बागडे), गो-हु (ऋत्विक ऋषभ) के साथ उनकी तीन अन्य फिल्में बूढ़ा-बूढ़ी चेक डैम, जिऊतिया : द सोल आफ कल्चरल सिटी दाउदनगर और कफन : द लास्ट वेइल भी शामिल हैं।
बिहार अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म फेस्टिवल-2020 के संयोजन निदेशक विद्या निकेतन विद्यालय समूह के सीईओ आनंद प्रकाश ने जानकारी दी कि सुप्रसिद्ध गणितज्ञ एवं कोचिंग संस्थान सुपर-30 (पटना) के आनंद कुमार और प्रतिष्ठित फिल्म अभिनेता अखिलेन्द्र मिश्र के साथ अद्भुत बेटी (वंडर गर्ल) के रूप में चर्चित जाह्ववी फिल्म उत्सव के मुख्य अतिथि हैं। संयोजन-संचालन के लिए ढाई दर्जन चुनिंदा लोगों की टीम बनाई गई है, जिनमें विद्या निकेतन विद्यालय समूह के अध्यक्ष सुरेश कुमार गुप्ता विद्या निकेतन के डिप्टी सीईओ आनंद प्रकाश, लेखक-पत्रकार उपेन्द्र कश्यप, डाली भारती (प्रस्तुति निदेशक), रणवीर कुमार (आपरेशन प्रमुख), पप्पू प्रकाश (कार्यक्रम समन्वयक), विशाल राय (तकनीकी समन्वयक) हैं।
(रिपोर्ट, तस्वीर : उपेेन्द्र कश्यप/निशांत राज)

सोन महोत्सव में उजागर होंगी कला-प्रतिभा, सांस्कृतिक विरासत

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। सोन नद अंचल क्षेत्र की कला प्रतिभाओं और सांस्कृतिक विरासत को उजागर करने के उपक्रम के रूप में दो दिवसीय सोन महोत्सव मार्च में होगा। यह निर्णय आनंद भवन परिसर में सांस्कृतिक सर्जना की संवाहक संस्था सोन कला केेंद्र और सहधर्मी संस्थाओं सोनघाटी पुरातत्व परिषद, डेहरी चेस क्लब, टीम इंडिया बैडमिंटन क्लब के पदाधिकारियों की बैठक में लिया गया। सोन महोत्सव में सोन नद अंचल के बिहार रोहतास, औरंगाबाद, कैमूर जिलों के कलाकारों और सोन अंचल के पड़ोसी प्रदेश झारखंड के गढ़वा, पलामू जिलों के लिए नृत्य प्रतियोगिता, गायन कार्यक्रम और कला-जत्था झांकी का आयोजन होगा। जयहिंद परिसर में आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में पहले दिन नृत्य प्रतियोगिता और दूसरे दिन गायन आदि सांस्कृतिक प्रस्तुति होगी। दूसरे दिन सुबह शहर की परिक्रमा करते हुए बाहरी कलाकारों का झांकी-भ्रमण होगा। प्रतियोगिता और झांकी दोनों के लिए नगद पुरस्कार राशि के साथ स्मृति-चिह्नï, प्रमाण-पत्र दिए जाएंगे। झांकी में दाउदनगर (औरंगाबाद) की जिऊतिया नकल और कैमूर पर्वत (रोहतास, बिहार), पलामू (झारखंड) के आदिवासी नृत्य की मौलिक प्रस्तुति होगी।
बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ स्त्रीरोग विशेषज्ञ डा. रागिनी सिन्हा ने की। बैठक में सोन कला केेंद्र के संरक्षक कारपोरेट कारोबारी उदय शंकर (मोहनी समूह), हृदय रोग विशेषज्ञ डा. एसबी प्रसाद, संस्थापक सलाहकार रंगकर्मी कृष्ण किसलय, चंद्रगुप्त मेहरा, अवधेश कुमार सिंह, अध्यक्ष दयानिधि श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष उपेन्द्र कश्यप, कोषाध्यक्ष राजीव रंजन, उप सचिव प्रीति राज, वरिष्ठ गायक राजू श्रीवास्तव, सिने अभिनेता स्वयंप्रकाश मिश्र सुमंत, मंच कलाकार अमिता पांडेय, सुरेंद्र कुमार आदि थे। इस अवसर पर सोनघाटी पुरातत्व परिषद की बिहार इकाई की ओर से दयानिधि श्रीवास्तव (कोषाध्यक्ष) द्वारा दिल्ली में बनवाया गया स्मृति-चिह्न भेंट-सम्मान के रूप में दिया गया।
(रिपोर्ट : निशांत राज, तस्वीर : चंद्रगुप्त मेहरा)

केमिस्ट-ड्रगिस्ट एसोसिएशन का दवा दुकान बंदी का आह्वान

सासाराम/डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-सोनमाटी टीम। बिहार में दवा की दुकानें तीन दिनों तक बंद रहेंगी। इसकी घोषणा बिहार राज्य केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन ने की है। दवा निरीक्षण में तकनीकी गलती की आड़ में दवा विक्रेताओं का विभागीय सरकारी उत्पीडऩ किए जाने के विरोध में और फार्मासिस्ट समस्या के समाधान के लिए रोहतास जिला में भी 22 से 24 जनवरी को तीन दिनों तक दवा की थोक-खुदरा दुकानें बंद रहेंगी। दवा कारोबारी सुमंत कुमार मिश्र (रौजा, रोड, सासाराम) और श्रवण कुमार अटल (त्रिगुन, डेहरी-आन-सोन) के अनुसार, ड्रग इंपेक्टर के निरीक्षण के बाद सुधार का अवसर दिए बिना कार्रवाई की जाती है। औषधि नियंत्रक की ओर से स्पष्ट दिशा-निर्देश जारी किया जाना चाहिए, ताकि राज्य स्तर पर नियमों में एकरूपता हो और उसके अनुपालन रोजगार-कारोबार विरुद्ध नहींहो। सासाराम के दवा कारोबारी सुमंत कुमार मिश्र, विजय पटेल, दीपक वर्मा ने बताया कि विभागीय निरीक्षण में एकरूपता और पारदर्शिता का अभाव है। बेशक कार्रवाई स्वास्थ्य विरोधी कारोबार में होनी चाहिए, मगर कार्रवाई रोजगारी विरोधी और उत्पीडऩ करने वाली होती है। इस दिशा में सरकार और विभाग की ओर से समुचित निर्णय नहींलिया गया तो अगले चरण का भी आंदोलन होगा।
(रिपोर्ट : अर्जुन कुमार/निशांत राज)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!