सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस-2022

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर मंगलवार को विभिन्न स्थानों पर कई कार्यक्रम आयोजित किए गए

BPSP B.ED. SONEMATTEE
नाटक प्रस्तुत करते- बीएड द्वितीय वर्ष

दाउदनगर (औरंगाबाद)-कार्यालय प्रतिनिधि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर भगवान प्रसाद शिवनाथ प्रसाद बी. एड. कॉलेज में भाषण प्रतियोगिता, चित्रकला प्रतियोगिता, और नाटक का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस प्रतियोगिता में बी.एड. एवं डी.एल.एड. के प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्र- छात्राओं ने भाग लिया। भाषण प्रतियोगिता में 19 छात्र- छात्राओं ने भाग लिया, जिन्होंने ‘ वर्तमान समय में महिलाओ कि भूमिका ‘ अपने-अपने विचार प्रकट किए। भाषण प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार लवली कुमारी ( बीएड प्रथम वर्ष), द्वितीय पुरस्कार रजनी कुमारी ( बीएड द्वितीय वर्ष) तृतीय पुरस्कार लालसा ( डीएलएड प्रथम वर्ष) को दिया गया। चित्रकला प्रतियोगिता के लिए राजेश कुमार (बीएड प्रथम वर्ष) को प्रथम , काजल कुमारी (डीएलएड प्रथम वर्ष) द्वितीय और लवली (बीएड प्रथम वर्ष ) तृतीय स्थान प्राप्त किया। इस अवसर पर छात्र- छात्राओं द्वारा काव्य का पठन एवं गायन भी प्रस्तुत किया गया।

BPSP B.ED. SONEMATTEE
नाटक प्रस्तुत करते- बीएड प्रथम वर्ष

बीएड प्रथम एवं द्वितीय के छात्र-छात्राओं द्वारा नाटक प्रस्तुत किया गया। जिसमें बीएड द्वितीय वर्ष के छात्र-छात्राओं द्वारा ‘सावित्रीबाई फुले प्रथम शिक्षिका‘ नाटक प्रस्तुत किया गया और दूसरी टीम जिसमें बीएड प्रथम वर्ष के छात्र-छात्राओं के द्वारा ‘बेटी पढ़ाओ’ नाटक प्रस्तुत किया गया। नाटक प्रतियोगिता के लिए प्रथम टीम को विजेता और दूसरी टीम को उपविजेता घोषित कर पुरस्कृत किया गया । नाटक प्रस्तुत में संवाद शैली, अभिनय, वेशभूषा आदि के लिए लवली कुमारी, नेहा कुमारी, ज्योति कुमारी, सोनम कुमारी, शाहबाज आलम, राणा अफरीन को पुरस्कृत किया गया।
कार्यक्रम का संचालन बीएड प्रथम वर्ष के रानी कुमारी, लवली कुमारी, हिना कुमारी, ब्रजेश कुमार ने किया गया।
महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ अमित कुमार, व्याख्याता पंकज कुमार, रामचंद्र यादव, विनोद कुमार ,मो. सोहेल अहमद, निशांत कुमार,सारिका ठाकुर, अनूप कनौजिया एवं शिक्षकेतर कर्मचारी विकास कुमार, संजय शर्मा, अमित कुमार आदि उपस्थित थे।

रानी कुमारी द्वारा प्रस्तुति-

“बोए जाते हैं बेटे, उग जाती है बेटियां।
खाद पानी बेटों को, पर लहराती है बेटियां।
स्कूल जाते हैं बेटे, पर पढ़ जाती हैं बेटियां।
मेहनत करते हैं बेटे, पर अव्वल आती है बेटियां।
रुलाते हैं जब खूब बेटे, तो बस आती है बेटियां।
नाम करे न करे बेटे, पर नाम करती हैं बेटियां।
जब दर्द देते हैं बेटे, जब मरहम लगाती है बेटियां।
छोड़ जाते हैं जब बेटे, काम आती है बेटियां।
आशा रहती है बेटों से, पूर्ण करती हैं बेटियां।
हजारों फरमाइश से भरे हैं बेटे, पर समय की नजाकत को समझते हैं बेटियां।”

(रिपोर्ट, तस्वीर : निशांत राज)

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस GNSU SONEMATTEE

जमुहार (रोहतास)-विशेष संवाददाता। गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय के तत्वधान में स्टूडेंट रिसर्च सोसायटी नारायण स्कूल ऑफ लॉ के द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर वाद विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस बात विवाद प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने सक्रिय रूप से भाग लिया एवं ‘क्या भारत महिलाओं के लिए सुरक्षित है’ विषय पर अपना-अपना विचार रखा। इस बात की बात प्रतियोगिता में प्रकाश सिंह (बीए एलएलबी द्वितीय वर्ष) और अदीबा हुसैन (बीए एलएलबी प्रथम वर्ष)को प्रथम, मो. आरिफ इमाम एवं जितेंद्र कुमार (बीए एलएलबी द्वितीय वर्ष) और रश्मि कुमारी (बीए एलएलबी प्रथम वर्ष) को द्वितीय स्थान प्राप्त किया। कार्यक्रम का संचालन बीए एलएलबी तृतीय वर्ष के छात्र -छात्रा संजीव कुमार सिंह एवं निदा खुर्शीद ने किया। इस कार्यक्रम का आयोजन महाविद्यालय के शिक्षक स्टूडेंट रिसर्च सोसायटी के संयोजक डा. संजय कुमार सिंह एवं डा. अभिषेक श्रीवास्तव, सहसंयोजक रामचंद्र यादव, सदस्य सौरव कुमार और सुबोध कुमार के देखरेख में संपन्न हुआ।

(रिपोर्ट, तस्वीर : भूपेंद्र नारायण सिंह, पीआरओ )

डेहरी-आन-सोन (कार्यालय प्रतिनिधि)। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर पुलिस लाइन में प्रशिक्षु महिला सिपाहियों, किशोरियों एवं महिलाओं को आत्मरक्षा की प्रशिक्षण के लिए विशेष परीक्षण शिविर की शुरुआत की है। आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ एसडीपीओ नवजोत सिम्मी ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा है कि महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए और खुद आत्मरक्षा के प्रति जागरूक करने के लिए प्रशिक्षण अनिवार्य है। कैरियर के बेहतर के लिए घर से बाहर रहना पड़ता है।उन्हें अपनी रक्षा स्वयं और अपने आप को मजबूत बनाने के लिए यह प्रशिक्षण अनिवार्य है। यह प्रशिक्षण नि:शुल्क है। हर दिन सुबह बजे से शुरू होकर 2 घंटे तक चलेगा।प्रशिक्षण में एल्बो अटैक, जूडो-कराटे, साइड अटैक, बैक अटैक सुरक्षा के दांव पेच दिखाए जाएंगे। प्रशिक्षक सोनी राज, खुशबू कुमारी, महिला कमांडो जानकी कुमारी के अलावा महाराष्ट्र से विशेष प्रशिक्षण प्राप्त रिमी कुमारी महिलाओं और छात्राओं को प्रशिक्षित कर रही हैं

डेहरी रेलवे सुरक्षा बल ने इस अवसर पर रेलवे में कार्यरत महिला सफाई कर्मियों को सम्मानित किया गया। आरपीएफ निरीक्षक रामविलास पासवान ने कहा कि आज महिलाएं राष्ट्र के विकास में पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर कार्य कर रही है। देश के विकास के साथ साथ प्रकृति के संतुलन में सहभागी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!