सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

कैमूरकोकिला का मतदाता जागरूकता अभियान/ निर्वाचन आयोग की नेशनल वेब मीटिंग/ एंटीकरप्शन कमेटी की समीक्षा बैठक

अनुराधाकृष्ण रस्तोगी जगा रहीं मतदान की अलख

(अनुराधाकृष्ण रस्तोगी)

कुदरा (कैमूर)-सोनमाटी संवाददाता। कैमूर कोकिला के रूप में प्रतिष्ठित भोजपुरी लोकगायिका और भोजपुरी फिल्मों की वरिष्ठ अभिनेत्री अनुराधाकृष्ण रस्तोगी कैमूर जिला में अधिक-से-अधिक मतदान करने की अलख जगा रही हैं। मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए निर्वाचन आयोग ने अनुराधाकृष्ण रस्तोगी को अपना आईकान बनाया है। श्रीमती रस्तोगी पिछले लोकसभा चुनाव में भी निर्वाचन आयोग की आईकान बनाई गई थीं। श्रीमती रस्तोगी ने कोविड-19 मानक के अंतर्गत मत के महत्व को बताने केलिए जागरूकता प्रसार अभियान कैमूर में आरंभ कर दिया है। वह निर्धारित स्थानों पर छोटे-छोटे समूह में गायन-वादन-नाट्यरूपक की अपनी टीम के जरिये प्रदर्शनी लगाकर और नुक्कड सभा कर मतदाताओं को यह संदेश दे रही हैं कि मतदाता लोकतंत्र का प्राथमिक आधार है और अधिक-से-अधिक मतदान से ही लोकतंत्र मजबूत होगा। उनके इस जन-जागरूकता के कार्य में गांधीधारा के प्रचारक-अभिनेता सुरेंद्रकृष्ण रस्तोगी की टीम सहयोग कर रही है।

मतदाता ही लोकतंत्र की ताकत : मुख्य निर्वाचन आयुक्त

(सुनील अरोड़ा)

पटना (कार्यालय प्रतिनिधि निशांत राज)। भारत के मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बिहार विधानसभा चुनाव और कई राज्यों में होने वाले उपचुनावों के लिए नियुक्त निर्वाचन पर्यवेक्षकों के साथ नेशनल वेब मीटिंग में कहा कि बिहार का चुनाव विश्व समुदाय द्वारा महामारी के बीच आयोजित दुनिया के सबसे बड़े चुनाव के रूप में देखा जा रहा है, इसलिए बिहार के चुनाव पर दुनिया की नजर है। उन्होंने स्वतंत्र, पारदर्शी और कोविड-19 सुरक्षित चुनाव कराने की निर्वाचन आयोग की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कहा कि लोकतंत्र की ताकत उसके प्राथमिक हितधारक मतदाता हैं। मतदान के दिन मतदान-केंद्र पर मतदाताओं को आने के लिए हर संभव प्रयास किया जाना चाहिए। उन्होंने पर्यवेक्षकों से स्थानीय चुनाव प्रशासन के रूप में मतदाताओं का मार्गदर्शक की भूमिका में होने और उनकी समस्या सुलझाने में मदद करने का निर्देश दिया। निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने भी पर्यवेक्षक की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने को कहा। निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने कहा कि पर्यवेक्षक संवैधानिक कर्तव्य से बंधे हैं और वे ही चुनाव के दौरान निर्वाचन आयोग का वास्तविक चेहरा हैं। इस नेशनल वेब मीटिंग में देश भर के 119 स्थानों पर मौजूद निर्वाचन पर्यवेक्षकों ने वर्चुअल माध्यम से भाग लिया। निर्वाचन आयोग के महासचिव उमेश सिन्हा और बिहार प्रभारी उपनिर्वाचन आयुक्त चंद्रभूषण कुमार ने चुनाव योजना, कोविड-19 सुरक्षा प्रबंध, मीडिया आदि पर अधिकारियों को जानकारी दी।
(इनपुट : प्रेस इन्फार्मेशन ब्यूरो, पटना)

समीक्षा बैठक में स्वच्छ-जल उपकरण लगाने का फैसला

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। नेशनल एंटी करप्शन एंड आपरेशन कमेटी आफ इंडिया की रोहतास जिला इकाई ने समीक्षा बैठक कर अपने पिछले कार्यों का लेखा-जोखा सदस्यों के सामने रखा। कमेटी की ओर से पिछले सप्ताह शहर, आस-पास के इलाके में जनजागरण के लिए कोविड-19 जागरूकता रथ निकाली गई थी और मास्क का भी वितरण किया गया था। बैठक में तय किया गया कि जल्द ही 20 लीटर क्षमता वला वाटर-प्यूरीफायर डिस्पेंसर शहर के 10 स्थानों पर लगाया जाएगा और उसकी मानीटरिंग की जाएगी। बैठक में नेशनल एंटी करप्शन एंड आपरेशन कमेटी आफ इंडिया जिला अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव, जिला सचिव सिद्धार्थ सत्यार्थ, राजीव विश्वकर्मा, संजय गुप्ता, संतोष गुप्ता, मंटू सिंह, नंद सिन्हा, बैजनाथ सिंह, राकेश गोस्वामी आदि शामिल थे।
हाथरस कांड पर प्रधानमंत्री को पत्र : एक अन्य संवाद के अनुसार, नेशनल एंटी करप्शन एंड आपरेशन कमेटी आफ इंडिया के राष्ट्रीय संगठन सचिव मनीष कुमार शरण ने गृहमंत्री को पत्र लिखकर हाथरस कांड प्रति ध्यान आकृष्ट कराया है और न्याय की मांग की है। कहा है कि समुचित कानूनी प्रावधान होने के बावजूद बच्चियों से बलात्कार की घटना समाज की वस्तुस्थिति और पुलिस द्वारा कानून का दोषियों के विरुद्ध इस्तेमाल नहींकरने के कारण बढ़ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!