मेयारी बाजार के सिद्धेश्वर स्कूल में विज्ञान प्रदर्शनी / डेहरी चित्रगुप्त मैदान में होगी प्रतिमा की प्राण-प्रतिष्ठा

अभिभावक तय करें, कहां है श्रेष्ठ शिक्षा परिसर : डा. एसपी वर्मा

मेयारी बाजार (रोहतास)-सोनमाटी संवाददाता। अभिभावकों को यह तय करना है कि क्या ग्रामीण अंचल के सभी विद्यालयों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा विद्यार्थियों को हासिल हो रही है? क्या पढ़ाई के साथ लीडरशीप के लिए उनके बच्चों का विकास हो रहा है? क्या बच्चों के भीतर छुपी किसी प्रतिभा को बेहतर तरीके से निखारने के लिए वातावरण विद्यालयों में उपलब्ध हो रहा है? क्या संचालक के पास विद्यालय प्रबंधन का लंबा व्यावहारिक अनुभव है? क्या विद्यार्थियों का सर्वांगीण विकास हो रहा है? ये सवाल अभिभावकों से अपने संबोधन में मेयारी बाजार स्थित सिद्धेश्वर पब्लिक स्कूल में आयोजित हस्तशिल्प, विज्ञान प्रदर्शनी एवं आनंद मेला समारोह मेंंस्कूल के अध्यक्ष डा. एसपी वर्मा ने किए। श्री वर्मा ने एक उत्तर यह भी दिया कि उच्च शिक्षा के लिए गांवों से नगर और महानगर में बच्चों के पलायन को रोकने के उद्देश्य से ही रोहतास के सुदूर ग्राम्य अंचल में सिद्धेश्वर पब्लिक स्कूल की स्थापना की गई है। यह गांवों-खेतों की ग्रामीण सांस्कृतिक परिवेश में संचालित रोहतास जिला के नोखा प्रखंड का सभी जरूरी संसाधनों से लैस एकमात्र सीबीएसई मान्यताप्राप्त विद्यालय है। मेयारी बाजार स्थित सिद्धेश्वर पब्लिक स्कूल के हस्तशिल्प, विज्ञान प्रदर्शनी एवं आनंद मेला समारोह के उद्घाटन सत्र का शुभारंभ नोखा के प्रखंड विकास पदाधिकारी रामजी प्रसाद पासवान, अंचलाधिकारी किशोर पासवान, डा. एसपी वर्मा, वर्मा एजुकेशनल ट्रस्ट की सचिव वीणा वर्मा, संतपाल स्कूल की प्राचार्य आराधना वर्मा ने संयुक्त रूप से दीप-प्रज्ज्वलन कर किया। वर्ग 6 से 8 के छात्र-छात्राओं द्वारा निर्मित-प्रदर्शित हस्तशिल्पों में इंडस्ट्रियल एरिया, हाइड्रोलिक ब्रीज, जल-जीवन-हरियाली, फ्यूचर सिटी, स्मार्ट विलेज जैसे माडलों को अभिभावकों और अतिथियों ने काफी पसंद किया। कार्यक्रम के संयोजन में विद्यालय समूह के प्रबंधक राहुल वर्मा और प्रबंधक रोहित वर्मा के साथ शिक्षक-शिक्षिकाओं, विद्यालय समूह के मीडिया प्रभारी अर्जुन कुमार ने भी योगदान दिया। स्कूल प्रबंधक रोहित वर्मा ने बताया कि मेयारी बाजार स्थित सिद्धेश्वर पब्लिक स्कूल, सिद्धेश्वर कालेज आफ टीचर एजुकेशन और सासाराम स्थित दक्षिण बिहार के सबसे बड़े निजी विद्यालय संतपाल सीनियर सेकेेंड्री स्कूल, किड्स प्ले स्कूल का संचालन वर्मा एजुकेशनल ट्रस्ट द्वारा किया जा रहा है, जिसके अध्यक्ष डा. एसपी वर्मा है।
(रिपोर्ट, तस्वीर : अर्जुन कुमार)

चार दिवसीय प्रतिमा प्राण-प्रतिष्ठा समारोह फरवरी में

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। स्टेशन रोड स्थित आनंद भवन परिसर में चित्रगुप्त समाज (डेहरी-आन-सोन) की हुई बैठक में चित्रगुप्त मैदान स्थित मंदिर परिसर में अगले माह चार दिवसीय चित्रगुप्त प्रतिमा-प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम के आयोजन का फैसला लिया गया। लिए गए निर्णय के अनुसार 25 फरवरी को जलभरी, 26 फरवरी को पूजन, 27 फरवरी कोप्राण-प्रतिष्ठा यज्ञ और 28 फरवरी को सामूहिक भंडारा होगा। चार दिवसीय इस सामाजिक आयोजन की जिम्मेदारी चित्रांशों (कायस्थों) के स्थानीय संगठन चित्रगुप्त समाज से जुड़े पदाधिकारियों-सदस्यों ने आपसी सहमति-सहयोग ली है। बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ स्त्रीरोग विशेषज्ञ डा. रागिनी सिन्हा ने की। धन्यवाद-ज्ञापन चित्रगुप्त समाज के अध्यक्ष मिथिलेश सिन्हा (अधिवक्ता) ने किया। बैठक में शालिनी वर्मा, दयानिधि श्रीवास्तव (भरतलाल), श्रवण कुमार अटल, आलोक सिन्हा, बरमेश्वरनाथ सिन्हा (कालीबाबू), मनोरंजन प्रसाद सिन्हा, ललित सिन्हा, विकास कुमार सिन्हा, नवीन सिन्हा, अनूप कुमार सिन्हा, ओमप्रकाश सिन्हा कमल, जयन्त वर्मा, अरविंद कुमार सिन्हा, अमित वर्मा आदि उपस्थित थे।
(रिपोर्ट : निशान्त राज)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.