सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

साइकिल गर्ल को राबड़ी देवी और नेताओं का हेल्प आफर/ सोन कला केेंद्र का प्रवासी राहत/ डा.मुध के नेतृत्व में ‘हेलो बहन’

पटना/डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। कोरोना महाआपदा में लाकडाउन के कारण रेल-बस बंद होने के बावजूद बीमार विकलांग पिता को गुरुग्राम (हरियाणा) से साइकिल पर पीछे बैठाकर 1200 किलोमीटर दूर बिहार के सिरहुल्ली गांव (दरभंगा) में सात दिन बाद पहुंचने वाली साहसी ज्योति कुमारी अंतरराष्ट्रीय चर्चा में है। दरभंगा पहुंचने की खबर मीडिया में आने के बाद वह तब ज्यादा चर्चा का विषय बनी, जब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इंवाका ट्रंप ने 22 मई को अपने ट्विटर पर ज्योति की तारीफ की। नौवींकक्षा की छात्रा ज्योति गांव के इंदिरा आवास में मां और तीन भाई-बहनों के साथ रहती है। पहले उसके पिता गुरुग्राम में ई-साइकिल चलाते थे, जो 26 जनवरी को घायल हो गए। ज्योति मां और जीजा (बड़ी बहन के पति) के साथ 30 जनवरी को गुरुग्राम पहुंची। मां और जीजा लौट आए, क्योंकि गांव में उससे छोटी बहन और छोटे दो भाई थे। वह घायल पापा की देखभाल के लिए गुरुग्राम में रुक गई। पिता ठीक हुए मगर चलने में तकलीफ थी। इसी बीच लाकडाउन लगा और पैसा पूरी तरह खत्म हो गया। प्रवासी श्रमिक लौटने तो उसने भी एक दल के साथ 08 मई की रात गुरुग्राम से पिता को साइकिल पर लेकर निकल पड़ी। इंवाका ट्रंप के ध्यानाकर्षण के बाद बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने राजद कार्यकर्ताओं के जरिये ज्योति से वीडियो कांफ्रेेंसिंग कर बात की और उसकी पढ़ाई-लिखाई, शादी का भी खर्च उठाने का आश्वासन दिया। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, रामविलास पासवान ने केेंद्रीय खेलमंत्री किरण रिजिजू से ज्योति की साइकिलिंग प्रशिक्षण में मदद करने, छात्रवृत्ति देने का आग्रह किया है तो केेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे ने ब्रांड अंबेसडर बनाने की बात कही है।

सोन कला केेंद्र का पांच दिवसीय राहत कार्यक्रम समाप्त

डेहरी-आन-सोन में सांस्कृतिक सर्जना की संवाहक संस्था सोन कला केेंद्र द्वारा सामाजिक दायित्व के तहत प्रवासी श्रमिकों के बीच पानी और भोजन पैकेट बांटने का शुरू किया गया पांच दिनों का कार्यक्रम समाप्त हो गया। दिल्ली-कोलकाता को जोडऩे वाले जीटी रोड पर चलाए गए इस कार्यक्रम में सोन कला केेंद्र के संरक्षक विधायक सत्यनारायण सिंह यादव और सनबीम स्कूल के निदेशक राजीवरंजन कुमार के साथ सलाहकार चंद्रगुप्त मेहरा, अध्यक्ष दयानिधि श्रीवास्तव, कार्यकारी अध्यक्ष जीवन प्रकाश, उपाध्यक्ष अरुण शर्मा, सचिव निशांत राज, कोषाध्यक्ष राजीव सिंह, उप कोषाध्यक्ष नंदकुमार सिंह, उप सचिव सुशील सिंह ओम, विशिष्ट सदस्य पारस प्रसाद, अनिलकुमार पाठक, कपिलमुनि पांडेय, उदय कुमार गुप्ता, सिन्टू सोनी, अविनाश सिन्हा अमूल्य, पिंटू दिलवाले, वीरेंद्र कुमार, राजेश सिन्हा छोटू, चंदन गुप्ता, दुर्गा चौरसिया, अनिल गुप्ता, जयंत वर्मा, प्रकाश कुमार आदि सक्रिय तौर पर शामिल हुए। अध्यक्ष दयानिधि श्रीवास्तव ने बताया कि संरक्षक डा. रागिनी सिन्हा, डा. एसबी प्रसाद, अरुणकुमार गुप्ता, उदय शंकर (मोहिनी समूह), राजीव रंजन के अग्रणी सहयोग और सदस्यों की सक्रिय भागीदारी से कार्यक्रम संपन्न हुआ।

कोरोना से बचाव का उपाय बता रही डा. मुध उपाध्याय की टीम

संझौली प्रखंड (रोहतास) की उप प्रमुख डा. मुध उपाध्याय ग्रामीण महिलाओं को व्हाट्सएप ग्रुप से जोड़कर कोरोना से बचाव करने और साफ-सफाई रखने की बात लगातार हर रोज बता रही हैं। डा. मधु उपाध्याय ने इसके लिए ‘हेलो बहन’ अभियान की शुरुआत पांच महिलाओं से की थी। आज ‘हेलो बहन’ की चेन से करीब 4.5 हजार ग्रामीण महिलाएं जुड़ चुकी हैं। डा. उपाध्याय के नेतृत्व में इस चेन (व्हाट्सएप ग्रुप) की महिलाएं आपस में संबंधित जानकारी शेयर करती हैं और चेन से बाहर की महिलाओं को भी बताती हैं। समूह की ग्रामीण महिलाओं को खाना बनाने, बच्चों के रख-रखाव में साफ-सफाई रखने के तरीकों की जानकारी दी जाती है

(रिपोर्ट, तस्वीर : निशांत राज)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!