सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

इन आंचलिक प्रतिभापुत्रियों को सैल्यूट

डालमियानगर/सासाराम,बिहार (कुमार अरुण गुप्त)। ग्रामीण अंचलों की बेटियां विभिन्न प्रतियोगिताओं में स्थान बनाकर यह बताने लगी हैं कि वे बेटों से कम नहींहैं। इसीलिए कभी पिछड़े समझे जाने वाले बिहार के घरों की चौखट लांघने की इजाजत नहींदेने वाले परिवारों का जोर अब लड़कियों की बेहतर शिक्षा पर है और इसीलिए साक्षरता में इस जिले ने राज्य में अपना अहम स्थान भी बना लिया है। जहां उच्च शिक्षा प्राप्त डालमियानगर की प्रियंका गौतम को रांची विश्वविद्यालय ने पढ़ाने का आमंत्रण दिया है, वहीं हाई स्कूल कीसासाराम व तिलौथू की छात्राओं ने पाठ्यक्रम की औपचारिक पढ़ाई से अलग सर्जनात्मक व खेल-कूद के क्षेत्र में भी अपना परचम लहराया है।

रांची विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर (मध्यकालीन इतिहास) में 76 फीसदी अंक के साथ गोल्ड मेडल पाने वाली प्रियंका गौतम डालमियानगर स्थित रोहतास उद्योगसमूह के स्थानीय परिसर प्रभारी अधिकारी आरतराय वर्मा की बड़ी बेटी हैं। प्रियंका ने इंटरमीडिएट की शिक्षा डालमियानगर माडल स्कूल से और स्नातक की शिक्षा पटना कामर्स कालेज से प्राप्त की थी। रांची विश्वविद्यालय के कुलपति ने वर्ष 2016 में टाप करने व गोल्ड मेडल पाने वाले एमएससी, एमकाम व एम के 22 छात्र-छात्राओं को एक साल के लिए टींिचंग असिस्टेंटशीप एवार्ड प्रदान किया है। इस एवार्ड के तहत चुने गए पूर्व छात्र-छात्राएं योगदान देने के बाद योगदान की तिथि से एक साल पूरा होने तक शिक्षक का कार्य करेंगे।

सासाराम के राजेंद्र पब्लिक स्कूल की छात्रा तनिष्का सिंह ने पटना स्थित जनरल पोस्टआफिस में आयोजित ‘ढाई आखरÓ पत्र लेखन प्रतियोगिता में अव्वल प्रदर्शन कर पोस्टल विभाग के केन्द्रीय मंत्री द्वारा 25 हजार रुपये का चेक व प्रतीक चिह्नï प्राप्त किया है। इस सर्जनात्मक उपलब्धि पर तनिष्का के सम्मान में स्कूल में एक समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें स्कूल की प्राचार्या गीता सिन्हा और निदेशक अंजनी सिन्हा ने कहा कि छोटे शहर के विद्यालय में भी बच्चों के सर्वांगीण विकास पर जोर है।

तिलौथू उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की छात्रा अंजलि कुमारी ने राज्यस्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में 10वां स्थान प्राप्त कर अपने स्कूल और अपने इलाके सहित रोहतास जिले की कामयाबी में एक नई उपलब्धि जोड़ी है। अंजलि का चुनाव विज्ञान प्रदर्शनी की राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए किया गया है। अंजलि द्वारा प्रदर्शित पवन चक्की को स्कूलों की जिला स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में प्रथम स्थान दिया गया था। इस आधार उसने बिहार राज्य माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा पटना के बांकीपुर स्थित गल्र्स स्कूल में आयोजित राज्य स्तरीय प्रदर्शनी में भाग लिया। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में राज्य के 38 जिलों से 132 छात्र-छात्राओं ने अपने-अपने विज्ञान (तकनीक) प्रदर्श के साथ भाग लिया था। निर्णायकों के फैसले के आधार पर राज्य माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से अंजलि कुमारी को सैमसंग का ग्लैक्सी टैबलेट (कंप्यूटर) व प्रशस्तिपत्र दिया गया। हाईस्कूल स्तरीय राष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी के लिए अंजलि सहित 20 प्र्रतियोगियों के प्रदर्श का चयन किया गया है। अंजलि सनौरा गांव के किसान प्रेमचंद सिंह की बेटी है।

गया स्थित डीएवी पब्लिक स्कूल परिसर में आयोजित सीबीएसई क्लस्टर मीट 2017 में सासाराम के एबीआर फाउंडेशन स्कूल की 9वीं की छात्रा आकांक्षा कुमारी ने लांग जम्प प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल हासिल किया। प्रतियोगिता में बिहार और झारखंड के 65 स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। आकांक्षा सासाराम के सत्येन्द्र कुमार राय की पुत्री है। आकांक्षा की सफलता पर स्कूल के सचिव पृथ्वीपाल सिंह का कहना है कि अब छोटे स्थान के शिक्षण संस्थान में भी पढ़कर बच्चे अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।
(तनिष्का सिंह व आकांक्षा कुमारी की तस्वीरें सासाराम के वरिष्ठ पत्रकार राजेश कुमार के फेसबुक वाल से)

10 किलोमीटर दौड़ का आयोजन


हसपुरा (बिहार)। शम्भूशरण सत्यार्थी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, हसपुरा प्रखंड के पीरू गांव में डा. आमिल एच खान की ओर से 10 किलोमीटर के मैराथन (दौड़) का आयोजन किया गया, जिसमें शामिल 107 धावकों ने पीरू के तकिया मैदान से हसपुरा तक और हसपुरा से पीरू तक वापसी की दौड़ लगाई। इतनी बड़ी संख्या में दौड़ लगाते लोगों को देखने के लिए आस-पास के गांवों के लोग उमड़ पड़े थे। इस दौड़ में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले पुरहारा गांव के सुधीर कुमार को दस हजार रुपये, बिलारू गांव के सुधीर यादव (द्वितीय) को पांच हजार रुपये व बेला गांव के सुमित कुमार (तृतीय) को ढाई हजार रुपये और चौथे से दसवें स्थान पर रहे धावकों को एक-एक हजार रुपये दिए गए। 10 किलोमीटर की दौड़ पूरी करने वाले सभी धावकों को मेडल से सम्मानित किया गया। इस मौके पर आयोजित समारोह को मुख्य अतिथि पूर्व विधायक डा. रणविजय कुमार, बीडीओ वेद प्रकाश, थानाध्यक्ष अरुण कुमार ने संबोधित करते हुए कहा कि व्यायाम मानसिक-शारीरिक रोग को दूर रखने का कारगर साधन है और दौडऩा भी एक बेहतर व्यायाम है। समारोह का संचालन हयात खान ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!