सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

कोविड-19 से विद्यार्थियों की सुरक्षा विद्यालयों की जिम्मेदारी/ उपेक्षित हैं आंचलिक पत्रकार

स्कूलों का खुलना संगठन की ही ताकत : शमाइल अहमद

सासाराम (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि निशांत राज। प्राइवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष सैयद शमाइल अहमद और बिहार प्रदेश महामंत्री डा. एसपी वर्मा ने मजबूती के साथ संगठन विस्तार का आह्वान किया। सैयद शमाइल अहमद ने कहा कि विद्यालय बंद रहेंगे तो वैज्ञानिक, इंजीनियर, डाक्टर, शिक्षाविदों को कहां से आएंगे? सरकारी विद्यालयों में कैसी पढ़ाई होती है, यह सबको पता है। सिनेमा, रेस्टोरेंट, माल, दुकान, होटल सब खुल गए तो संगठन की ओर से प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री तक बात पहुंचाई गई। सौंपे गए ज्ञापन में आरटीई (शिक्षा के अधिकार) के तहत निजी विद्यालयों में पढऩे वाले गरीब बच्चों की राशि सरकार द्वारा निजी विद्यालयों को जल्द मुहैया कराने की मांग की गई। सरकार का 04 जनवरी से विद्यालय खोलने का फैसला एसोसिएशन की मांग का भी परिणाम है। लाकडाउन में किराये के भवन में चल रहे अनेक निजी विद्यालय बंद भी हुए। निजी विद्यालयों के शिक्षकों को सब्जी तक बेचने की नौबत आई। अनेक शिक्षक-शिक्षिकाएं कर्जदार हो गए। अनेक ने अपना प्रोफेशन ही बदल दिया। महामंत्री डा. एसपी वर्मा ने कहा कि संगठन परिवार की तरह होता है। वही संगठन आगे बढ़ता और सफल होता है, जिससे जुड़े लोग नेतृत्व के प्रति भरोसा बनाए रखते हैं। कोविड स्ट्रेन के कारण से सभी स्कूल के सामने सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करने चुनौती है। विद्यालय खोलने से पूर्व मास्क, सैनिटाइजर, टेम्परेचर मशीन आदि की व्यवस्था रखनी होगी। कोविड-19 में विद्यालयों पर अभिभावकों और सरकारी मशीनरी की निगाह रहेगी।

डा. वर्मा को राष्ट्रीय संयुक्त सचिव का भी दायित्व :

कार्यक्रम का आरंभ सैयद समाइल अहमद, डा. एसपी वर्मा और रोहतास जिलाध्यक्ष रोहित वर्मा ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। पासवा के पदाधिकारियों द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष सैयद समाइल अहमद और बिहार प्रदेश महामंत्री डा. एसपी वर्मा को शाल भेंटकर अभिनंदन किया। पासवा अध्यक्ष की ओर से यह बताया गया कि डा. एसपी वर्मा को संगठन ने संयुक्त राष्ट्रीय संयुक्त सचिव का दायित्व भी दिया है। कार्यक्रम में प्राइवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की रोहतास जिला इकाई के उपाध्यक्ष सुभाष कुमार कुशवाहा, सचिव समरेंद्र कुमार समीर, सह सचिव संग्राम कांत, महामंत्री अनिल कुमार शर्मा, सुनील कुमार, संजय त्रिपाठी, कोषाध्यक्ष कुमार विकास प्रकाश, संयोजक धनेन्द्र कुमार, जनसम्पर्क पदाधिकारी दुर्गेश पटेल के साथ रोहतास जिला के प्रखंड इकाइयों के अध्यक्षों अरविंद भारती (डिहरी), दिनेश्वरतिवारी (चेनारी), अजय सिंह (नासरीगंज), सुनील कुमार (काराकाट), अनिता देवी (बिक्रमगंज), यमुना चौधरी (राजपुर), सत्येंद्र कुमार (दिनारा), तेजनारायण पटेल (सासाराम), अजितकुमार पटेल (करगहर), श्यामसुंदर सिंह (संझौली), शिवयश पाल (सूर्यपुरा), विश्वजीत कुमार (दावथ), चंदनकुमार राय (शिवसागर), मनोज सिंह (तिलौथू), अशोक पाल (अकोढ़ीगोला) सहित प्रखंडों के अन्य पदाधिकारियों ने भाग लिया।

दुर्दशा में ग्रामीण पत्रकार, सब जगह होती है उपेक्षा

प्रयागराज (उत्तर प्रदेश)-सोनमाटी समाचार नेटवर्क। भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के सोरांव तहसील इकाई की बैठक में ग्रामीण पत्रकारों की दशा पर चर्चा की गई और कहा गया कि सरकार का ध्यान नहींहै। कस्बों और ग्रामीण अंचलों में पत्रकारिता करने वाले मीडियाकर्मी उपेक्षित हैं। यहां तक की उनका मीडिया संस्थानों में भी उनकी उपेक्षा होती है अपने कार्य को बखूबी अंजाम देने के बावजूद उन्हें पत्रकार नहींमाना जाता, न्यूनतम सुविधाएं भी नहींदी जाती और अधिकार-पत्र तक नहींदिए जाते। प्रसार और विज्ञापन तक का कार्य ग्रामीण पत्रकार करते हैं। जबकि देश के करीब अस्सी फीसदी हिस्से में ग्रामीण पत्रकार ही समाचारों को पहुंचाने का कार्य करते हैं। मीडिया संस्थानों में ग्रामीण पत्रकारों के लिए बजट का प्रावधान ही नहींरखा जाता। बैठक में राकेश शुक्ला को जिला प्रतिनिधि पद पर चुना गया और रिजवान सैफ खान को तहसील अध्यक्ष और शिवपंकज यादव को महासचिव बनाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!