सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

सीबीआई की छापेमारी, डीएम स्थानांतरित

-कंवल तनुज जांच के घेरे में, जमीन के अधिग्रहण में करोड़ों की हेराफेरी का आरोप
-सीबीआई की टीम ने की औरंगाबाद, नोएडा, लखनऊ में कार्रवाई

-कंवल तनुज ग्रामीण विकास विभाग में स्थानांतरित
– मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रहे हैं कंवल तनुज के सार्वजनिक प्रशंसक

पटना/औरंगाबाद (सोनमाटी समाचार)। औरंगाबाद के डीएम कंवल तनुज जांच पर करोड़ों की जमीन की हेराफेरी करने के आरोप में औरंगाबाद स्थित उनके सरकारी आवास और उनके लखनऊ, नोएडा सहित छह ठिकानों पर छापेमारी  के बाद ग्रामीण विकास विभाग में स्थानांतरित कर दिया  गया है।
छापेमारी की कार्रवाई औरंगाबाद स्थित नवीनगर के एनटीपीसी प्रोजेक्ट से जुड़ा मामला है। एनटीपीसी प्रोजेक्ट के लिए जमीन अधिग्रहण को लेकर करोड़ो का लेन-देन हुआ है। सीबीआई की दिल्ली शाखा ने 21 फरवरी को  केस दर्ज किया है।  बीआरबीसीएल को भी आरोपी बनाया गया है। छापेमार दल का नेतृत्व सीबीआई के एसपी राजेश रंजन ने किया।

खूब बटोरी सूर्खियां, विरोध भी
कभी डीएम कंवल तनुज को ईमानदार बताया गया था और सोशल मीडिया पर इनसे संबंधित प्रमाणपत्र देने की भाषा में बातें कही गई थीं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सार्वजनिक मंच से इनकी तारीफ कर चुके हैं। जिले में खूब सूर्खियां इन्होंने बटोरी। उसी अनुपात में विरोध भी हुआ। एक चर्चित मामला शौचालय के लिए 12 हजार रुपये में पत्नी को बेचने की सलाह देने का रहा है।

सतह पर जो आरोप है, वह नवीनगर बिजली परियोजना में जमीन अधिग्रहण में दो करोड़ रुपये रिश्वत लेने का है। अब यह भी दबे स्वरों में बताया जा रहा है कि जिला प्रशासन की रिश्वतखोरी का मामला दाउदनगर भी जुड़ा हुआ है। वहां से भी करोड़ों की डील हुई थी। नवीनगर की तरह ही रैयती जमीन में दाउदनगर में भी रिश्वतखोरी हुई और सत्ता के गलियारों तक पैसे पहुंचाए गए। सीबीआई के रेड को लेकर प्राशासनिक हलके में हड़कंप है।  छापेमारी को लेकर जिला प्रशासन खामोश है और जिला से लेकर राजधानी पटना प्रसाशन या सरकार का कोई प्रतिनिधि अधिकारी कुछ भी टिप्पणी करने के लिए तैयार नहीं है।

विवाद सांसद,  विधायक से

यह माना जा रहा है कि औरंगाबाद के डीएम कंवल तनुज का विवाद औरंगाबाद के सांसद सुशील सिंह और औरंगाबाद के विधायक आनंद शंकर से रहा है।

(रिपोर्ट व तस्वीर : उपेन्द्र कश्यप के साथ सोनमाटी टीम)

पटना/औरंगाबाद ।  बिहार सरकार  के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार 2010 बैच के आईएएस अधिकारी औरंगाबाद के जिलाधिकारी कंवल तनुज  को स्थानांतरित कर संयुक्त सचिव ग्रामीण विकास, पटना के पद पर पदस्थापित किया गया है।  ग्रामीण कार्य विभाग के विशेष सचिव राहुल रंजन महिवाल को जिला पदाधिकारी औरंगाबाद के पद पर पदस्थापित किया गया है। श्री रंजन अगले आदेश तक बंदोबस्त पदाधिकारी औरंगाबाद के अतिरिक्त प्रभार में रहेंगे ।

 

प्रशिक्षणार्थियो को मिलीं पुस्तकेें
हसपुरा (औरन्गाबाद)-सोनमाटी समाचार। एनआरडीपी द्वारा हसपुरा में संचालित कुशल युवा कार्यक्रम के प्रशिक्षणार्थियो को केंद्र संचालक शम्भूशरण सत्यार्थी एवं श्रीकांत प्रसाद ने पुस्तकेें वितरित कीं। राज्य के युवाओं के कौशल विकास के लिए प्रखंडों तक प्रशिक्षण केंद्र खोले गये हैं। कुशल युवा कार्यक्रम के तहत युवाओं को कंप्यूटर का ज्ञान दिया जा रहा है और अंग्रेजी बोलना सिखाया जा रहा है। इंटर पास विद्यार्थी (उम्र बीस से पच्चीस वर्ष) को दो वर्ष तक एक हजार रुपये की सहायता दी जा रही है। लैब फैसिलिटेटर शोभा कुमारी एवं स्वीटी कुमारी ने कार्यक्रम में सहयोग किया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!