सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

पूर्वी भारत के सभी हालमार्किंग सेन्टरों में होंगे नए साल से काम

पटना/डेहरी-आन-सोन (बिहार)-कार्यालय प्रतिनिधि। ऑल इंडिया हॉलमार्किंग एक्शन कमिटी के आह्वान पर अपनी मांगों और समस्याओं की ओर भारतीय मानक ब्यूरो का ध्यान खींचने के उद्देश्य से पूर्वी भारत के सभी हालमार्किंग सेन्टर पांच दिनों की हड़ताल पर है और इनमें नए साल से कामकाज शुरू होगा। गत 27 दिसंबर भारत के इस्टर्न जोन के 122 हॉलमार्किंग सेंटर हड़ताल पर हैं और इनमें हॉलमार्किंग का कार्य नहीं किया जा रहा है। इस जोन में बिहार के साथ पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, झारखंड, छतीसगढ़, त्रिपुरा, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, असम, नागालैंड, मिजोरम, मणिपुर और सिक्किम प्रदेश आते हैं।
निबंधित ज्वेलरों की संख्या से अधिक सेंटर होने से कारोबार बनी घाटा इंडस्ट्रीज
हॉलमार्किंग एक्शन कमिटी की ओर से बताया गया है कि उनकी मांग सरकार और ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैण्डर्ड (बीआईएस) हॉलमार्किंग सेंटर खोलने का लाइसेंस जरूरत के अनुरूप संख्या में ही दे। बीआईएस द्वारा निबंधित ज्वेलर्स ही हॉलमार्किंग सेंटर के ग्राहक होते हैं और ऐसे ज्वेलरों की संख्या देश में सेंटर के अनुपात में काफी कम है। हॉलमार्किंग सेंटर खोलने और हॉलमार्किंग जेवर बेचने का लाइसेंस भारतीय मानक ब्यूरो देती है, इसलिए इंडस्ट्री का लाभ-हानी भी उसे देखना चाहिए। बड़ी संख्या में सेंटर खुलने और लाइसेंसी दुकानदारों की संख्या कम होने के कारण सेंटर का संचालन मुश्किल होकर घाटे का व्यवसाय बन गया है। इस इंडस्ट्रीज को तभी बचा पाना संभव है, जब सरकार हॉलमार्किंग को अनिवार्य बनाए और हॉलमार्किंग सेंटर खोलने के लिए बाजार के मद्देनजर नीति बनाए। सरकारी सर्वे के मुताबिक, देश में 700 से अधिक हॉलमार्किंग सेंटर हैं, जबकि जिलों की संख्या करीब 500 है। देश में एक लाख से अधिक ज्वेलर्स हैं, किन्तु कुछ हजार ही भारतीय मानक ब्यूरो के तहत हॉलमार्किंग जेवर बेचने के लिए निबंधित हैं।
(रिपोर्ट व तस्वीर : निशान्त राज)

 

बजाज एलियांज के बीमा कंसलटेंट के सम्मान में समारोह

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-वरिष्ठ संवाददाता। बजाज एलियांज कार्यालय में इंश्योरेंस कंसलटेंट पुरुषोत्तम कुमार को एमडीआरटी रैंक तक पहुंचने पर सम्मान समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें कंपनी के पटना कार्यालय के जोनल मैनेजर वेंकटेश कुमार ने केक काटा। बजाज एलियांज के गया कार्यालय के असिस्टेंट महाप्रबंधक चितरंजन कुमार सिंह, डेहरी-आन-सोन के शाखा प्रबंधक राजेश कुमार सिंह, सेल्स मैनेजर जितेंद्र कुमार सिंह और शाखा के कर्मचारी, शाखा से जुड़े इंश्योरेंस कंसलटेंट ने भाग लिया। शाखा प्रबंधक राजेश कुमार सिंह ने बताया कि एक दशक पूर्व इस शाखा से जुड़े तिलेश्वर प्रसाद गुप्ता ने एमडीआरटी रैंक तक पहुंचे थे। बीमा कंसलटेंट पुरुषोत्तम कुमार ने अपना अनुभव बताते हुए कहा कि बजाज एलियांज में मैं साइकिल से चलकर आया था, आज अपने काम के बदौलत अपने परिवार की जीविका चलाते हुए अपना मकान की स्थिति में पहुंचा हूं।
(रिपोर्ट व तस्वीर : वारिस अली)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!