सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

रूट रिले इंटरलाकिंग कार्य 75 फीसदी पूरा, 31 अक्टूबर से ट्रेनों का सामान्य संचालन संभव

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-विशेष प्रतिनिधि। डेहरी-आन-सोन और सोननगर रेलस्टेशनों के बीच चल रहे रूट रिले इंटरलाकिंग का कार्य का 75 फीसदी हिस्सा लगभग पूरा हो चुका है। इस बात की पूरी संभावना है कि पारपंरिक इंटरलाकिंग से अलग इस नान-इंटरलाकिंग के कार्य को पूर्व निर्धारित समय पर पूरा कर लिया जाएगा। यह कार्य सितम्बर महीने से ही चल रहा है, जिसके लिए 24 से 30 अक्टूबर तक 68 ट्रेनों में से अधिसंख्य का आवागमन ही इस अवधि में रद्द कर दिया गया है और दूर के अधिसंख्य ट्रेनों के मार्ग बदल दिए गए हैं।

ट्रेनों के परिचालन के लिए बंद किया गया प्लेटफार्म नंबर-2 चालू

रूट रिले इंटरलाकिंग के कार्य में संतोषजनक प्रगति के बाद अब पुरी-नईदल्ली एक्सप्रेस, पुरुषोत्तम एक्सप्रेस, जोधपुर एक्सप्रेस, चंबल एक्सप्रेस और अन्य ट्रेनों के परिचालन के लिए बंद किया गया प्लेटफार्म नंबर-2 चालू कर दिया गया है।

हाजीपुर स्थित पूर्व-मध्य रेल के जोनल मुख्य यातायात प्रबंधक संजय कुमार, दीनदयालउपाध्याय रेल मंडल के वरिष्ठ प्रबंधक (संकेत एवं दूरसंचार) एसके वर्मा, नान-इंटरलाकिंग के नोडल पदाधिकारी वृजेश यादव आदि वरीय अधिकारियों ने डेहरी-आन-सोन से सोनगर तक रेलट्रैक का सूक्ष्म निरीक्षण किया और संबंधित अधिकारियों-कर्मियों को आवश्यक निर्देश दिए।

युद्धस्तर पर चल रहा है विभिन्न विभागों का संयुक्त कार्य
समझा जा रहा है कि रूट रिले इंटरलांिकंग का कार्य 29 अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा। इस कार्य को युद्धस्तर पर संपन्न कराने के लिए दीनदयाल उपाध्याय रेल मंडल के मंडल प्रबंधक पंकज सक्सेना को डेहरी-आन-सोन में शिविर डालना पड़ा है। डेहरी-आन-सोन में इस तकनीक को स्थापित करने के लिए इंजीनियरिंग, विद्युत, यातायात और संकेत-दूरसंचार विभाग की ओर से अपने-अपने हिस्से के कार्य किए जा रहे हैं। डेहरी-आन-सोन में कई अरब रुपये की लागत से रूट रिले सिस्टम की स्थापना की जा रही है। इस कार्य के लिए भारत सरकार के रेलसुरक्षा आयुक्त राम कृपाल ने 26 अक्टूबर को डेहरी-आन-सोन पहुंचकर डेहरी से सोननगर तक रेल-रूट और उस पर हो रहे कार्यों का मुआयना रेल यातायात सुरक्षा की दृष्टि से किया। उन्होंने रेलवे के उच्चाधिकारियों के साथ यहां बैठक कर कार्य-प्रगति की समीक्षा भी की और पूर्व निर्धारित समय पर काम पूरा कर लेने का निर्देश दिया, ताकि यात्रियों को अब और असुविधा नहींउठानी पड़े।

रिपोर्ट व तस्वीर : प्रमोद कुमार अरुण, साथ में इनपुट वीरेंद्र पासवान)

 

नौ दिनों तक चलेगा 40वां श्रीहनुमान जयंती समारोह का सत्संग कार्यक्रम

डालमियानगर (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। स्थानीय श्रीलक्ष्मीनारायण मंदिर में 40वें श्रीहनुमान जयंती समारोह का आरंभ विधिवत पूजा-अर्चना के साथ हुआ, जिसका उद्घाटन घरवासडीह के रामानुजाचार्य स्वामी नारायण आचार्य महाराज ने किया।

ज्ञानयज्ञ संस्थान के अध्यक्ष प्रफुल्ल कुमार सिंह ने बताया कि 9 दिनों तक चलने वाले जयंती समारोह के इस कार्यक्रम में संध्या 7 बजे पूजा-अर्चना के साथ विद्वानों का सत्संग-समारोह भी प्रतिदिन होगा।

 

24 नवंबर  तक चलेगा डिप्लोमा इन एलिमेंट्री एजुकेशन प्रशिक्षण

डालमियानगर (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। स्थानीय बीआरसी में सरकारी व गैर सरकारी विद्यालयों के अप्रशिक्षित शिक्षकों को डिप्लोमा इन एलिमेंट्री एजुकेशन का प्रशिक्षण दिया गया। एनआईओएस द्वारा आयोजित यह प्रशिक्षण कार्यक्रम 24 नवंबर तक चलेगा। 6 सितंबर से शुरू इस कार्यक्रम में सप्ताह में दो दिन (शनिवार एवं रविवार) को शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। पीसीपी कोऑर्डिनेटर कामेश्वर प्रसाद (प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी) ने बताया कि विभिन्न विद्यालयों से 197 प्रशिक्षुओं ने हिस्सा लिया।
बीआरसी और इंटरस्तरीय उच्च विद्यालय में चल रहा प्रशिक्षण
बीआरसी में ट्रेनर बंटेश कुमार सिंह, रमेश कुमार सिंह, सिनेस सिंह, अफजाल अंसारी, रितेश पांडेय प्रशिक्षुओं को प्रशिक्षित कर रहे हैं। जबकि इंटर स्तरीय उच्च विद्यालय में कोऑर्डिनेटर मारकंडे राय के नेतृत्व में प्रारंभिक शिक्षाशास्त्र में डिप्लोमा के लिए विभिन्न विद्यालयों से आए 197 द्वितीय वर्ष के शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है, जहां ट्रेनर वरुण कुमार, नीरज, संजय रस्तोगी द्वारा शिक्षकों को प्रशिक्षित कर रहे हैं।

(रिपोट व तस्वीर : प्रमोद कुमार अरुण)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!