विद्यार्थियों ने की बिहार लाने की मांग / एनएमसीएच में 160 संदिग्ध कोरोना मरीज / सुनील शरद की पत्नी का निधन / रमजान मुबारक

समरथ के नाहि दोस गुसाईं…, विद्यार्थियों ने की भूख हड़ताल

पटना/ डेहरी-आन-सोन/सासाराम/दाउदनगर (सोनमाटी टीम)। लाकडाउन में नवादा जिला के हिसुआ विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक अनिल सिंह द्वारा उनकी बेटी को कोटा से लाए जाने पर मचा बबाल शांत भी नहीं हुआ कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतनराम मांझी द्वारा गया से पटना जाने और फिर पटना से गया जाने की घटना तुलसीदास की चौपाई (समरथ के नाहि दोस गुसाई) जैसी चर्चा का विषय बन गई। इस माहौल में लाकडाउन की घोषणा के बाद कोटा में फंसे बिहार के विद्यार्थी भूख हड़ताल पर बैठकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से उन्हें घर वापस जाने के लिए बसों की व्यवस्था करने की मांग की है। कोटा में मेडिकल (नीट) और इंजीनियरिंग प्रवेश (जेईई) परीक्षा की कोचिंग बिहार, उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड, मध्यप्रदेश, गुजरात, दादरा-नगर हवेलीे के करीब 40 हजार विद्यार्थी ले रहे हैं। इनमें 18 हजार विद्यार्थी अपने घर जा चुके हैं। शेष बचे रह गए विद्यार्थियों में करीब 11 हजार बिहार के हैं। बिहार के बाहर में फंसे विद्यार्थियों के लिए बिहार सरकार की ओर से कहा गया है कि वे अपनी समस्या के समाधान के लिए हेल्प लाइन नंबर 0612-2294600 पर संपर्क कर सकते हैं। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार के मद्देनजर बिहार सरकार ने निर्णय लिया है कि सभी जिलों में डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग होगी और सभी को मास्क लगाकर सड़क पर चलना होगा। बिहार सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क सचिव अनुपम कुमार के अनुसार, राज्य के 1.8 करोड छात्र-छात्राओं के खाते में छात्रवृति, और लाभ योजना के मार्च तक की 3102 करोड़ रुपये की रकम भेजी जा चुकी है। समाज कल्याण द्वारा 84.76 लाख पेंशनधारकों के खाते में तीन महीने की अग्रिम पेंशन रकम डाल दी गयी है। 1.07 लाख आंगनबाड़ी केंद्रों के 48 लाख बच्चों के लिए दो महीने के लिए दो मिल्क पाउडर पैकेट दिए जा रहे हैं।
एनएमसीएच में 160 संदिग्ध भर्ती, 06 मरीजों का इलाज
बिहार के दक्षिण सीमावर्ती जिलों रोहतास, कैमूर और औरंगाबाद के साथ इससे जुड़े बक्सर और भोजपुर भी कोरोना की चपेट आ चुके हैं। रोहतास में नौ, कैमूर में आठ, औरंगाबाद में दो, बक्सर में दो और भोजपुर में एक कोरोना मरीज की पुष्टि हो चुकी है। तीन मरीज सासाराम की बारादरी मुहल्ले की महिला और उसके दोनों बेटों का इलाज पटना में चल रहा है। डेहरी-आन-सोन से विशेष संवाददाता के अनुसार, जमुहार स्थित नारायण मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल (एनएमसीएच) के आइसोलेशन वार्ड में 160 से संदिग्ध मरीज भर्ती किए गए हैं। जबकि इनमें से पाजिटिव पाए गए 06 मरीजों का यहां उपचार भी किया जा रहा है। सभी संदिग्ध मरीज के रक्त नमूना संग्रहित कर उसे जांच के लिए एनएमसीएच से पटना भेजा जा रहा है। 24 अप्रैल को भेजे गए 32 संदिग्धों के रक्त नमूने में दो पाजिटिव पाए गए। 25 अप्रैल को 102 और संदिग्ध मरीजों के रक्त नमूने जांच के लिए पटना भेजे गए हैं।
(रिपोर्ट : भूपेन्द्रनारायण सिंह, पीआरओ, एनएमसीएच)

चांद के दीदार के बाद रमजान शुरू
आकाश में चांद का दीदार होने के बाद 25 अप्रैल से रमजान का महीना शुरू हो गया। अटैची सेन्टर (डेहरी-आन-सोन) के गुलजार फिरदौसी, रिजवान अली और नगर मोहर्रम कमेटी के सचिव वारिस अली के साथ शिक्षण संस्थानों डालमियानगर महिला कालेज के प्राचार्य डा. अशोक कुमार सिंह, संतपाल स्कूल (सासाराम) के प्रबंधक रोहित वर्मा, सनबीम स्कूल (डेहरी-आन-सोन) के प्रबंधक राजीव रंजन, विद्या निकेतन विद्यालय (दाउदनगर) के मुख्य कार्याधिकारी आनंद प्रकाश, डालमियानगर रोहतास इंडस्ट्रीज कांपलेक्स के प्रभारी प्रबंधक एआर वर्मा, डेहरी-आन-सोन के कारपोरेट कन्सलटेन्ट अरुण कुमार गुप्ता, मोहिनी समूह के प्रबंध निदेशक उदय शंकर, होटल उर्वशी के निदेशक संतोषकुमार गुप्ता ने भी मुस्लिम समुदाय के अपने विद्यार्थियो-अध्यापकों-ग्राहकों को रमजान की मुबारकवाद दी है।

सुनील शरद की पत्नी का निधन, शोक संवेदनाएं
डालमियानगर (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। सोन कला केन्द्र के उपाध्यक्ष सुनील शरद (डालमियानगर) की पत्नी रीता देवी का असमय निधन हृदय गति रूक जाने के कारण हो गया। उनकी उम्र 55 वर्ष थी। उनके असमय निधन पर सोन कला केेंद्र के संरक्षकों विधायक सत्यनारायण सिंह यादव, डा. रागिनी सिन्हा, डा. एसबी प्रसाद, अरुणकुमार गुप्ता, उदय शंकर, राजीव रंजन के साथ सलाहकारों कृष्ण किसलय, जगनारायण पांडेय, उपेन्द्र मिश्र, चंद्रगुप्त मेहरा, अवधेशकुमार सिंह, कार्यकारी अध्यक्ष जीवन प्रकाश, सचिव निशान्त राज, कोषाध्यक्ष राजीव कुमार सिंह, उपकोषाध्यक्ष नंदकुमार सिंह, उप सचिव सत्येंद्र कुमार गुप्ता, उदय गुप्ता आदि ने और स्वर्णकार समाज विकास शोध संस्थान के प्रदेश अध्यक्ष अरुण वर्मा ने उनकी अंतिम यात्रा के प्रति नमन प्रकट करते हुए उनके शोक-संतप्त परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की। उनकी अंतिम यात्रा में सोन नद तट की मोक्ष भूमि पर पहुंचकर शामिल होने वालों में उनके परिवार जनों के साथ सोन कला केन्द्र के अध्यक्ष दयानिधि श्रीवास्तव, उपाध्यक्ष उपेन्द्र कश्यप, उपाध्यक्ष अरुणकुमार शर्मा आदि भी शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.