मोहिनी को सर्वोत्तम सेवा एवार्ड / एनएमसीएच में ओरिएंटेशन क्लास / रोहतास के 500 निजी स्कूल शिक्षकों का होगा सम्मान

 

मोहिनी इंटरप्राइजेज को कंज्यूमर सर्विस के लिए पटना में मिला सर्वोत्तम सम्मान

पटना/डेहरी-आन-सोन (विशेष प्रतिनिधि)। वर्ष 2018-19 में सर्वोत्तम ग्राहक सेवा के लिए शहर (डेहरी-आन-सोन) की अग्रणी रसोई गैस वितरक एजेंसी मोहिनी इंटरप्राइजेज को सम्मानित किया गया और इस आशय का प्रमाणपत्र, स्मृतिचिह्नï भारत सरकार की कंपनी आईओसी (इंडियन आयल कारपोरेशन) की ओर से प्रदान किया गया। आईओसी के 60 साल पूरा होने के उपलक्ष्य में पटना के होटल मौर्या सभागार में इंडियन आयल दिवस पर आयोजित समारोह में आईओसी के सबसे बड़े प्रक्षेत्र पटना एरिया के प्रमुख (डीजीएम सह एरिया मैनेजर) सर्वेश कुमार सिन्हा ने मोहिनी इंटरप्राइजेज के संचालक उदय शंकर को यह प्रमाणपत्र दिया। इस अवसर पर 14.2, 19 किलो रसोई गैस सिलेंडर के सर्वाधिक विक्रेता के रूप में पटना सिटी की गैस एजेंसी ज्योति कलश (संचालक डा. रामनरेश सिन्हा) और कारोबार में कार्यालय स्वच्छता के साथ हरित संदेश प्रसार के लिए कृष्णापुरी के राजधानी इंटरप्राइजेज (संचालक अनीता कुमारी) को प्रमाणपत्र, स्मृतिचिह्नï देकर सम्मानित किया गया।

बेहतर ग्राहक सेवा में मोहिनी इंटरप्राइजेज अग्रणी : उदय शंकर
डेहरी-आन-सोन में भी मोहिनी इंटरप्राइजेज की ओर से इंडियन आयल दिवस मनाया गया। मोहिनी इंटरप्राइजेज के संचालक निदेशक उदय शंकर ने बताया कि समाज के वंचित परिवारों की बीपीएल महिला के लिए प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत देशभर में 08 करोड़ रसोई गैस कनेक्शन देने का लक्ष्य भारत सरकार ने तय किया था, जिसमें 7.2 करोड़ कनेक्शन लोकसभा चुनाव से पहले दे दिया गया था। चुनाव खत्म होने के बाद बाकी रह गए 80 लाख उज्ज्वला कनेक्शन सौ दिन (10 सितम्बर तक) में देने का लक्ष्य तय किया गया, जो एक पखवारा पहले ही 25 अगस्त को पूरा हो गया। 80 लाख कनेक्शन में इंडेन के सबसे बड़े वितरण प्रक्षेत्र पटना एरिया अंतर्गत के वितरक मोहिनी इंटरप्राजेज को न्यूनतम 1005 कनेक्शन देने का लक्ष्य दिया गया था। मोहिनी इंटरप्राइजेज ने अपने लक्ष्य से आगे जाकर 1105 कनेक्शन दिए। मोहिनी इंटरप्राइजेज ने उज्ज्वला के अंतर्गत 14.2 किलो का एक गैस सिलेंडर के बजाय 05 किलो के दो गैस सिलेंडर के लिए बीपीएल महिला उपभोक्ताओं को उत्प्रेरित (मोटिवेट) किया, क्योंकि यह समाज के कमजोर वर्ग के लिए काफी व्यावहारिक है। उदय शंकर ने कहा, चूंकि अब यह योजना सभी जाति और वर्ग के परिवारों की बीपीएल महिला के लिए घोषित हो गई है, इसलिए इसके अगले चरण के विस्तार में देशभर में कम-से-कम दो करोड़ नए उज्ज्वला रसोई गैस कनेक्शन की स्वीकृति भारत सरकार से मिलने की संभावना है।

गैस कनेक्शन मिला तो बदली गरीबों की जीवनशैली : मीना शंकर
मोहिनी इंटरप्राइजेज की पार्टनर मीना शंकर के अनुसार, 05 किलो रसोई गैस के डबल सिलेंडर में उज्ज्वला कनेक्शन देने का अनुभव बेहतर है। इसमें उपभोक्ता महिला को साल भर में 14.2 किलो का 12 सिलेंडर या 05 किलो का 34 सिलेंडर देने का प्रावधान है। 05 किलो सिलेंडर कमजोर परिवार के लिए ज्यादा व्यावहारिक है, क्योंकि इसमें गैस की कीमत करीब ढाई सौ रुपये ही होती है और एक सिलेंडर का गैस खत्म होने के बाद इस्तेमाल के लिए दूसरा सिलेंडर उपभोक्ता के पास होता है। इस बीच उपभोक्ता दूसरे खाली सिलेंडर को आसानी से भरवा लेती हैं। मीना शंकर के मुताबिक, रसोई गैस कनेक्शन से समाज के सबसे कमजोर तबका के परिवार की जीवनशैली बदल रही है। अब मजदूर दोपहर के लिए अपने खाने का टिफिन लेकर काम पर निकलता है। बीपीएल परिवार की महिला के लिए सुबह-सुबह लकड़ी, गोयठा, कोयले का चू्ल्हा जलाना, खाना पकाना खासकर बारिश के मौसम में तो सदियों से बेहद मुश्किल काम रहा है। अब रसोई गैस की पहुंच के कारण खाना पकाना आसान हो गया और समय की बचत भी हो गई। इससे प्रदूषण रहित जीवनशैली का प्रसार हो रहा है और ग्लोबल वार्मिंग पर अंकुश वाला कार्य भी हो रहा है। मोहिनी इंटरप्राइजेज हर रोज 70-80 किलोमीटर दूर तक रोहतास जिला के पर्वतीय इलाके के दक्षिणवर्ती छोर तक रसोई गैस पहुंचाने का कार्य कर रहा है। समाज के सबसे कमजोर वर्ग के परिवार के लिए 05 किलो रसोईगैस सिलेंडर के उत्प्रेरण का कार्य उनकी देख-रेख में मोहिनी की टीम (अनिल पाठक, कपिलमुनि पांडेय आदि) करती रही है।
(रिपोर्ट : कृष्ण किसलय, तस्वीर : निशांत राज)

 

चिकित्सा के विद्यार्थी स्वस्थ भारत के आरंभिक आधार : डा. एमएल वर्मा

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। जमुहार स्थित गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय (जीएनएसयू) परिसर अंतर्गत एनएमसीएच (नारायण मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल) में सत्र 2019-20 के एमबीबीएस विद्यार्थियों के लिए एक अक्टूबर तक चलने वाले फाउंडेशन क्लास का शुभारंभ करते हुए जीएनएसयू के कुलपति डा. एमएल वर्मा ने कहा कि चिकित्सा के विद्यार्थी स्वस्थ भारत की परिकल्पना को साकार करने की दिशा के सबसे मजबूत आरंभिक आधार हैं। समाज के लोगों कोचिकित्सा सेवा स्वस्थ बनाए रखने का चिकित्सकों के कंधे पर ही है।
उधर, जीएनएसयू परिसर अंतर्गत नारायण कृषि विज्ञान संस्थान में संस्थान के निदेशक डा. आरपी सिंह के नेतृत्व मे पौधरोपण कार्यक्रम के तहत 500 पौधे लगाए गए। बताया गया कि निरंतर प्रदूषित हो रहे पर्यावरण के सुरक्षा और ग्लोबल वार्मिंग के बढ़ते प्रभाव पर काबू पाने के लिए अधिक से अधिक पेड़ों-वनस्पतियों का होना जरूरी है।
(रिपोर्ट, तस्वीर : भूपेंद्रनारायण सिंह)

 

पटना में सम्मानित होंगे रोहतास के 500 शिक्षक : डा. एसपी वर्मा

सासाराम/बिक्रमगंज (रोहतास)-सोनमाटी संवाददाता। बिहार की राजधानी पटना के कृष्ण मेमोरियल सभागार में 15 सितम्बर को विशाल शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से किया गया है। यह जानकारी देते हुए प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के बिहार प्रदेश महामंत्री डा. एसपी वर्मा एवं संतपाल स्कूल के अध्यक्ष ने बताया कि रोहतास जिला से भी निजी स्कूलों के 500 शिक्षकों को सम्मानित करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए एसोसिएशन के प्रखंड इकाइयों केअध्यक्षों से अपने-अपने इलाके के निजी स्कूलों के शिक्षकों की सूची और विवरण एसोसिएशन की जिला कार्यालय में जमा करने को कहा गया है।
प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की बिक्रमगंज में हुई बैठक में एसोसिएशन के जिला उपाध्यक्ष सुभाष कुमार कुशवाहा ने कहा कि 22 सितम्बर को सासाराम में संतपाल स्कूल परिसर के उमा सभागार में संगठन का जिला सम्मेलन होगा। इसके लिए प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन से संबद्ध रोहतास जिला के लगभग 600 स्कूल संचालकों को आमंत्रित किया गया है। इस अवसर पर स्मारिका का भी प्रकाशन किया जाएगा।
(रिपोर्ट : अर्जुन कुमार)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.