सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

वेब पत्रकारों की दिल्ली-एनसीआर इकाइयां गठित

रिफाकत हुसैन बनेअध्यक्ष ताे पंकज प्रसून महासचिव

नई दिल्ली (कार्यालय प्रतिनिधि)। देश की राजधानी दिल्ली के कनॉट प्लेस में वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन आफ इंडिया ( डब्ल्यूजेएआई ) दिल्ली- एनसीआर की बैठक राष्ट्रीय महासचिव डॉ. अमित रंजन की अध्यक्षता में दिल्ली – एनसीआर इकाइयां गठित किया गया।
राष्ट्रीय अध्यक्ष आनन्द कौशल, जो ऑनलाइन उपस्थित रहे, ने कहा कि डब्ल्यूजेएआई अपने जन्मना उद्देश्यों की प्रतिपूर्ति की दिशा में बड़ी तेजी के साथ अग्रसर है इसी कड़ी में आज दिल्ली एनसीआर इकाइ के विधिवत गठन के साथ एक नये अध्याय का आरंभ हो रहा है। देश में वेब पत्रकारिता को स्वनियमन द्वारा नियंत्रित करने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा एक्ट बनाया गया है जबकि डब्ल्यूजेएआई ने अपने संविधान में ही स्वनियमन के तहत डूज एंड डॉंट्स का प्रावधान किया।

wjai

बैठक की अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय महासचिव डॉ. अमित रंजन ने संगठन के संविधान की संक्षिप्त चर्चा करते हुए कहा कि भारत सरकार ने वेब पोर्टलों के ग्रीवांस रिड्रूसल मेकेनिज्म के लेवल टू पर सेल्फ रेग्यूलेटरी बॉडी के गठन का नियमन दिया है जबकि डब्ल्यूजेएआई ने शुरु से ही वेब जर्नलिस्ट्स स्टैंडर्ड ऑथरिटी- डब्ल्यूजेएसए का प्रावधान कर रखा है। उन्होंने कहा कि डब्ल्यूजेएआई से जुड़े सभी पोर्टलों के लिए संगठन के स्वनियमन का पालन करना बाध्यकारी है। उन्होंने कहा संगठन वेब पत्रकारिता में शुचिता और देश के सभी कानूनों का अनुपालन के लिए कटिबद्ध है।

बैठक के आरंभ में संयोजक पंकज प्रसून ने सभी आगत सदस्यों का स्वागत किया और कहा कि देश में वेब पत्रकारों के हित की रक्षा के लिए डब्ल्यूजेएआई एकलौती निबंधित संस्था है जो अपने उद्देश्यों और लक्ष्यों की दिशा में लगातार आगे बढ़ रही है।

बैठक में सर्वसम्मति से दिल्ली-एनसीआर इकाई के लिए 15 सदस्यीय कार्यकारिणी का गठन किया गया। जिसमें सेवानिवृत्त स्क्वाड्रेन लीडर रिफाकत हुसैन को अध्यक्ष, दीप्ति अंग्रिश और सुभाष चंद्रा को उपाध्यक्ष, पंकज प्रसून को महासचिव, आशुतोष झा को सचिव, और निशांत झा को कोषाध्यक्ष मनोनीत किए गये। इसके अलावा कार्यकारिणी सदस्यों के पद पर अशरफ खान, शिवनाथ, हर्षनाथ झा, ईश्वर नाथ का मनोनयन किया गया कुछ पद रिक्त रखे गये।
इस बैठक में उपस्थित सदस्यों द्वारा अनेक सार्थक मुद्दों पर चर्चा की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!