सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

स्कूलों में समाधान क्लास की तैयारी/ नोटिस के बाद कंपनियों ने हटाए वेबलिंक/ जल-जीवन-हरियाली कार्यक्रम

डाउट क्लस में समाधान को संतपाल तैयार : डा. वर्मा

(विद्यालय परिसर में सुविधा निरीक्षण करते डा. एसपी वर्मा)

सासाराम/डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी दिशा-निर्देश के तहत कक्षा 9वीं से 12वीं के तक के विद्यार्थियों के लिए डाउट क्लास संचालन की अपनी तैयारी संतपाल सीनियर सेकेेंड्री स्कूल ने पूरी कर ली है। कक्षा 9वीं से 12वीं के 40 फीसदी से अधिक विद्यार्थियों की ओर से अभिभावकों के सहमति-पत्र विद्यालय कार्यालय में जमा भी किए जा चुके हैं। विद्यालय के अध्यक्ष डा. एसपी वर्मा ने बताया कि मंत्रालय द्वारा 8 सितम्बर 2020 को जारी पत्र मेंंनिर्दिष्ट मानक के मुताबिक विद्यालय परिसर में स्व-संचालित सेनीटाइजर, साबुन, शौचालय, आनलाइन शुल्क भुगतान आदि का प्रबंध कर लिया गया है। विद्यार्थियों को कक्षा में एक-दूसरे से छह फीट की दूरी पर बैठाया जाएगा। विद्यालय में प्रार्थना-सभा का आयोजन नहीं होगा। संबंधित सभी कक्षाओं में शिक्षक विद्यार्थियों के पाठ्यक्रम और पढ़ाई से जुड़ी शंकाओं का निराकरण करेंगे। प्रति दिन विद्यालय के भवन, क्लासरूम, प्रयोगशाला में हाइपोक्लोरायड के छिड़काव करने की व्यवस्था की गई है। पढ़ाई और पाठ्य सलाह के समय विद्यार्थी, शिक्षक-शिक्षिका, कर्मचारी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है। विद्यालय प्रबंधन द्वारा स्थानीय चिकित्सकों द्वारा विद्यार्थियों के स्वास्थ्य की काउन्सलिंग की भी व्यवस्था की गई है। विद्यालय परिसर में छह बेड की नर्सिंग सुविधा का निर्माण जारी है, जो अगले माह कार्यरूप में आ जाएगी।

सनबीम में भी हुआ मानक का पालन :

(प्राचार्य अनुभा सिन्हा)

डेहरी-आन-सोन स्थित सनबीम पब्लिक स्कूल में भी सरकार के निर्देश और अनुमति के आलोक में 9वीं और 10वींकक्षा के छात्र-छात्राओं के लिए शंका समाधान कक्षा (डाउट क्लास) के संचालन की जरूरी तैयारी कर ली गई है। सरकार ने 21 सितम्बर से शंका समाधान कक्षा का संचालन किए जाने का प्रावधान किया है। सनबीम स्कूल की प्राचार्य अनुभा सिन्हा और प्रबंध निदेशक राजीव रंजन के अनुसार, दिशा-निर्देश के अनुकूल स्कूल ने तैयारी कर रखी है। कहा कि शंका समाधान कक्षा के संबंध में विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों ने पूछ-ताछ की है। शुरू में कम संख्या में छात्र-छात्राएं आएंगे, मगर फिर विद्यार्थियों की संख्या उनमें भरोसा और हिम्मत बढऩे के साथ बढ़ती जाएगी।

रिपोर्ट : निशांत राज, तस्वीर : संतपाल स्कूल

ट्रेडमार्क की हो रही प्रभावी निगरानी : सक्सेना

पटना (कार्यालय प्रतिनिधि)। खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) की कार्रवाई के बाद एमेजन, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील आदि ने ई-कामर्स पोर्टल के जरिये खादी ब्रांड उत्पाद की बिक्री से संबंधित 160 से अधिक वेब लिंक हटा लिए हैं। केवीआईसी की ओर से 1000 से अधिक कंपनियों को कानूनी नोटिस भेजी गई थी। इसका असर यह हुआ है कि देश में मास्क, हर्बल साबुन, शैंपू, सौंदर्य प्रसाधन, हर्बल मेहंदी, जैकेट, कुर्ता आदि नकली खादी उत्पाद बेचने वाले कई स्टोर बंद हो गए हैं। कोविड-19 के कारण लाकडाउन के दौरान फर्जी आनलाइन बिक्री तेजी हो गई थी। केवीआईसी के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि केवीआईसी ने खादी इंडिया ट्रेडमार्क अधिकार की प्रभावी निगरानी के लिए आनलाइन प्रवर्तन योजना बनाई है और कानूनी टीम तैनात की है। केवीआईसी की ओर से फैबइंडिया से 500 करोड़ रुपये हर्जाना मांगने का मामला मुंबई उच्च न्यायालय में है।

पानी, पेड़ का संरक्षण, मिल रहा रोजगार भी

सासाराम (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। करसेरूआ ग्रामपंचायत के दौबोलिया तालाब का ४.९१ लाख रुपये की लागत से जिर्णोद्धार कर उसका लोकार्पण किया गया। राज्य सरकार के जल जीवन हरियाली कार्यक्रम के तहत लोकार्पण मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ओर से वीडियो कांफ्रेेंसिंग के जरिये किया गया। इस अवसर पर सासाराम प्रखंड की प्रमुख रामकुमारी देवी ने कहा कि आहर की खुदाई हो जाने से पानी के जमाव के बाद इसमें मछली पालन भी होगा। जल जीवन हरियाली कार्यक्रम से जल संरक्षण, वृक्ष संरक्षण होने के साथ ग्रामीणों को रोजगार भी मुहैया हो रहा है। तालाब के लोकार्पण के अवसर पर प्रखंड विकास पदाधिकारी स्मृति कुमारी, मनरेगा के कार्यक्रम पदाधिकारी वसंत कुमार, पंचायत रोजगार सेवक ताराशंकर, लेखापाल रूपेश कुमार स्नेही, कनीय अभियंता विनय कुमार पंचायत तकनीकी सहायक अखिलेश्वर कुमार चौबे, करसेरूआ ग्रामपंचायत की मनराजो देवी आदि उपस्थित थे।

रिपोर्ट : निशान्त राज, इनपुट तस्वीर : पापिया मित्रा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!