सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

औद्योगिक इकाईयों को वेब पोर्टल पर अपने रिटर्नस् भरने को लेकर एक दिवसीय सम्मेलन का हुआ आयोजन

 

पटना (कार्यालय प्रतिनिधि)। सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय, भारत सरकार के राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय, पटना द्वारा कारखाना अधिनियम ‘1948 के धारा 2 एम (प) एवं 2 एम (पप) में पंजीकृत औद्योगिक इकाईयों को वेब पोर्टल पर अपने रिटर्नस् स्वंय भरने के लिए संवेदनशील बनाने के लिए मंगलवार को कर्पूरी ठाकुर सदन, आशियाना दीघा रोड़, पटना में एक दिवसीय गोलमेज सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 30 औद्योगिक इकाईयों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। 

एन. संगीता, उप महानिदेशक ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। उन्होंने रिटर्नस को वेब पोर्टल पर स्वंय संकलन के लिए औद्योगिक इकाई के प्रबंधकों को उत्साहपूर्ण प्रयास करने की अपील की। औद्योगिक इकाईयों के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए उप महानिदेशक ने कहा कि अर्थव्यवस्था के बदलते हुए परिदृश्य में रिएल टाइम डाटा को महत्वपूर्ण भूमिका निभाना है और इसलिए औद्योगिक इकाईयों द्वारा स्वंय संकलन अतिमहत्वपूर्ण है। यह सांख्यिकीय सूचना के प्रसार में सहायता करेगा और सूचना के मूल्यांकन कर देश के लिए लाभकारी होगा। रोजगार, पूँजी, श्रम-बल, ईधंन,कच्चा माल, आगत – निर्गत अनुपात, जी.एस.टी. संग्रह, मूल्यवर्द्धन आदि पर एकत्रित की गई आँकडे़ का सांख्यिकीय उदेश्य के लिए उपयोग होता है। ये सारे तत्व सकल घरेलू उत्पाद मे औद्योगिक क्षेत्र के योगदान को बताता है। औद्योगिक इकाई द्वारा रिएल टाइम डाटा देने के लिए उन्होने जोर दिया ताकि अर्थव्यवस्था के नब्ज के आधर पर एक उचित बेस तैयार किया जा सके।   

आर्थिक एवं सांख्यिकी निदेशालय के निदेशक संजय कुमार पंसारी व उप निदेशक परिमल ने प्रतिभागियों को संबोधित कर औद्योगिक इकाईयों को स्वयं संकलन हेतु प्रेरित किया। देवेन्द्र कुमार और कमलेश गुप्ता, वरिष्ठ सांख्यिकीय अधिकारी ने उपस्थित प्रतिभागियों को वेब पोर्टल पर अपना रिटर्नस् भरने का प्रशिक्षण दिया। मनोज कुमार गुप्ता, सांख्यिकीय अधिकारी ने सांख्यिकी अधिनियम‘2008 के प्रावधानों से सभा को अवगत कराया। अभिषेक गौरव, सहायक निदेशक के धन्यवाद ज्ञापन के साथ सम्मेलन का भव्य समापन हुआ। मौके पर एन.एस.एस.ओ और डी.ई.एस. के अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!