सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है   Click to listen highlighted text! सोनमाटी के न्यूज पोर्टल पर आपका स्वागत है

विकास के साथ राष्ट्रवाद की शानदार विजय पर बधाई

सासाराम (रोहतास)-सोनमाटी संवाददाता। विकास के साथ राष्ट्रवाद और भाजपा की अभूतपूर्व देशव्यापी जीत पर बाल विद्या मंदिर परिवार की बैठक मंगलम् उत्सव वाटिका में अभियंता नवीन सिन्हा की अध्यक्षता में हुई। बैठक में डा. बुद्धनाथ प्रसाद श्रीवास्तव ने कहा कि भ्रष्टाचार को फैलाने में राजनेताओं और नौकरशाहों की भूमिका रही है। पांच वर्षों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार ने इस पर अंकुश लगाने की दृढ़ता से कोशिश की है। भारत की जनता को आतंकवाद से मुक्ति दिलान की दिशा में भी भाजपा ने कार्य किया है। देश की जनता ने सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की नीति का व्यापक समर्थन किया है। बैठक में सासाराम संसदीय सुरक्षित क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार छेदी पासवान की जीत पर बधाई संदेश पारित किया गया। एस. लाल, डा. राकेश बघेल, मोहन बाबू, दिलीप सोनी, संजय सिंह, संजय गुप्ता, ललन प्रसाद, प्रत्युष बघेल, संतोष सिन्हा, कृष्णा प्रसाद, संजीव कुमार आदि ने भी अपनी बातें रखीं। कार्यक्रम का संचालन बाल विद्या मंदिर परिवार के प्रवक्ता अर्जुन कुमार ने किया। कार्यक्रम का समापन सामूहिक राष्ट्रगान (जन-गण-मन) से हुआ।
(रिपोर्ट, तस्वीर : अर्जुन कुमार)

 

डिहरी विधानसभा क्षेत्र में साढ़े तीन हजार से अधिक ने नोटा दबाया

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। लोकसभा चुनाव के साथ डिहरी विधानसभा क्षेत्र में हुए उपचुनाव में साढ़े तीन हजार से अधिक मतदाताओं ने नोटा अर्थात इनमें से कोई नहीं का बटन दबाकर मौजूदा प्रत्याशियों के प्रति अपनी नापसंदगी का संवैधानिक इजहार किया। डिहरी विधानसभा का चुनाव बिहार के पूर्व मंत्री इलियास हुसैन के अलकतरा घोटाला में सजा पाने और जेल जाने के कारण कराया गया, जिसकी अवधि करीब डेढ़ साल की बची हुई है। इस विधानसभा उपचुनाव में 12 प्रत्याशी चुनाव के मैदान में थे, जिनमें चार को छोड़कर सबको नोटा से कम मत प्राप्त हुए। यह जानकारी देते हुए नोटा के संवैधानिक अधिकार का इस्तेमाल करने की अपील करने वाले मैरीन इंजीनियर संजीव कुमार उर्फ बंटी ने कहा कि मतदाताओं में एक जागृति आई है। भविष्य में इसका असर यह होगा कि यथायोग्य प्रत्याशी ही चुनाव के मैदान में होंगे अन्यथा उन्हें मतदाता से खारिज मत (नोटा) से कम मत पाने की लज्जास्पद स्थिति झेलनी होगी। चुनाव में सत्यनारायण सिंह यादव (भाजपा) को 71614, फिरोज हुसैन (राजद) को 37765, प्रदीप कुमार जोशी (राष्ट्र सेवा दल) को 14556 और ब्रजमोहन सिंह (सीपीआई) 4222 मत मिले। इनके अलावा किसी भी उम्मीदवार को नोटा जितना भी मत नहीं मिला। विधानसभा के 3542 मतदाताओं ने कोई प्रत्याशी पसंद नहीं होने पर नोटा बटन को दबाया है। श्री बंटी ने जानकारी दी कि बिहार के 40 लोकसभा क्षेत्रों में चुनाव में 89.4 लाख से अधिक मतदाताओ ने नोटा बटन का प्रयोग किया गया। सबसे अधिक गोपालगंज लोकसभा क्षेत्र में 51565 मतदाताओं ने ईवीएम का नोटा बटन दबाया। यह मतदाताओं के असंतोष का भी संकेत है।
(रिपोर्ट, तस्वीर : निशांत राज)

 

जातिवाद और परिवारवाद की राजनीति को जनता ने नकारा : विधायक

दाउदनगर (औरंगाबाद)-विशेष संवाददाता। चुनाव ने साबित कर दिया है कि जातिवाद और परिवारवाद की राजनीति करने वाले दलों को जनता ने नकार दिया है। नरेंद्र मोदी, नीतीश कुमार और रामविलास पासवान के नेतृत्व में एनडीए ने बिहार और पूरे देश में अपना ऐतिहासिक परचम लहराया है। मतदाताओं ने हम पर जितना भरोसा किया है, अब हमें जनता की आकांक्षा पर खरा उतरने के लिए उतने भी भरोसे के साथ काम करना है। यह बात डिहरी विधानसभा क्षेत्र के नवनिर्वाचित विधायक सत्यनारायण सिंह यादव ने डेहरी-आन-सोन से पटना जाने के क्रम में दाउदनगर में कही। दाउदनगर में भाजपा के ग्रामीण अध्यक्ष सुरेंद्र यादव, महिला मोर्चा के मंडल अध्यक्ष पूनम देवी, पूर्व मुखिया रामानंद यादव और पूर्व शिक्षक राजेंद्र पासवान की अगुआई ने बड़ी संख्या में भाजपा, जदयू और लोजपा के कार्यकर्ताओं ने फूल-माला के साथ उनका स्वागत किया।

उधर, अपने संबोधन में भाजपा के मंडल अध्यक्ष सुरेंद्र यादव ने इस अवसर पर कहा कि केेंद्र में नरेंद्र मोदी और राज्य में नीतीश कुमार के नेतृत्व ने यह साबित कर दिया कि देश की जनता विकास चाहती है, शांति चाहती है और प्रेम-सौहार्द का वातावरण ही पसंद करती है। बिहार में एक तरफा जीत जनता की इसी आकांक्षा की परिणति है। सुरेंद्र यादव ने काराकाट लोकसभा क्षेत्र से महाबलि सिंह और औरंगाबाद लोकसभा क्षेत्र से सुशील सिंह के साथ डिहरी विधानसभा क्षेत्र उपचुनाव में सत्यनारायण सिंह यादव की जीत पर बधाई देते हुए कहा है कि अब जिम्मेदारी बढ़ गई है, बेहतर से बेहतर काम कर दिखाने का वक्त है। जातिवाद की राजनीति करने वाले और जनता को अब तक इस मकडज़ाल में उलझाए रखने वाले हार का ठिकरा ईवीएम पर फोडऩा चाहते हैं, मगर जनता सब समझती है। बिहार में भाजपा की जीत की सुनामी के मद्देनजर दाउदनगर के भाजपा कार्यालय में मिठाई बांटी गई और खुशी का सामूहिक इजहार किया गया।

(रिपोर्ट, तस्वीर : उपेंद्र कश्यप)

 

समय-पूर्व प्रसव पर चिकित्सा महाविद्यालय में संगोष्ठी

डेहरी-आन-सोन (रोहतास)-कार्यालय प्रतिनिधि। दवा निर्माता कंपनी जुवेंट हेल्थ केयर के सहयोग से जमुहार स्थित नारायण चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल (एनएमसीएच) में समय-पूर्व प्रसव पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें गोपालनारायण सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति डा. एमएल वर्मा, स्त्री एवं प्रसूती रोग विभाग के अध्यक्ष डा. रामाधार तिवारी, डा. रीता सिन्हा, शिशु रोग विभाग के अध्यक्ष डा. जेपीएन वर्णवाल और पीएसएम विभाग के अध्यक्ष डा. दिलीप कुमार यादव ने अपने अनुभव और आधुनिक चिकित्सा विज्ञान के शोध-पर्यवेक्षण के आधार पर अपने-अपने विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन डा. नदीम ने किया।

संगोष्ठी में बताया गया कि समय-पूर्व प्रसव होने पर जच्चा (मां) और बच्चा (नवजात शिशु) को क्या-क्या परेशानी हो सकती है? समय-पूर्व पैदा होने के कारण नवजात शिशु को भविष्य में क्या बीमारी हो सकती है और ऐसी मां को किस तरह की समस्या से सामना करना पड़ सकता है? वक्ता चिकित्सकों ने यह सलाह भी दी कि चिकित्सा की दृष्टि से क्या-क्या उपाय अपनाया जाना चाहिए और कौन-कौन सी दवाओं का कब-कब उपयोग किया जाना चाहिए?
(रिपोर्ट, तस्वीर : भूपेंद्रनारायण सिंह, पीआरओ, एनएमसीएच )

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Click to listen highlighted text!