डा. रूबी भूषण की दो कविताएं

डॉ.रूबी भूषण‌‌ करीब दो दशक से शिक्षा, साहित्य और समाज सेवा के क्षेत्र में सक्रिय हैं। इनकी कहानियों का संकलन ‘टेम्स नदी बहती रही’ है। दूरदर्शन और आकाशवाणी से इनकी…

कुमार बिंदु की कविता : जादूगरनी रात और जादुई सपने

कुमार बिंदु की कविता : जादूगरनी रात और जादुई सपने कल फिर आयी थी सांवली सलोनी रातमाथे पर चांद की टिकुली लगाएजुल्फों में सितारों के गजरे सजाएदबे पांवमेरे घर, मेरे…

बाल कविताएं

बाल दिवस के अवसर पर बाल कविताएं मैं बालक गुमनाम अभी हूँ।मुन्ना चुन्ना नाम अभी हूँ।।मिट्टी बदन पर मल रहा हूँ।बज्र सा मैं खुद ढल रहा हूँ।।बजरंग सा बलवान मैं…

कविता : दीपावली का त्यौहार

अरुण दिव्यांश की कविता : दीपावली का त्यौहार चल रहा स्वच्छता अभियान , चल रही है चहुंओर सफाई । घर के बाहर व घर के भीतर , हर्षित मन होकर…

कविता : तुम बहुत ही याद आए

डा. भगवान प्रसाद उपाध्याय की कविता : तुम बहुत ही याद आए दर्द के बादल उमड़ करआंख में ऐसे समायेमौन व्याकुल इस हृदय मेंतुम बहुत ही याद आये। प्यार का…

लक्ष्मीकांत मुकुल की अरुणाचल यात्रा पर कविताएँ

लक्ष्मीकांत मुकुल की अरुणाचल यात्रा पर कविताएँ : पहली विमान यात्रा, असम के चाय बगान और रास्ते में मिली दिहिंग नदी पहली विमान यात्रा रनवे पर तेज दौड़कर उड़ा विमान…

शिक्षक दिवस के अवसर पर अरुण दिव्यांश की कविता

शिक्षक-शिक्षा और गुरु शि से शिकवा क्ष से क्षमा , क से होता यह तो कर्म । शिकवे दूर कर करें क्षमा , शिक्षा देना है पावन कर्म ।। शिक्षक…

अरुण दिव्यांश की दो कविताएं

अरुण दिव्यांश की दो कविताएं : नारी समानता और दूसरी मां की मां नारी समानता नारी को समान बनाना क्या ,नारी तो स्वयं है नर से ऊपर ।नारी ही जगत…

चंद्रयान-3 मिशन पर केन्द्रित कविताएं

चंद्रयान /अरुण दिव्यांश आज फिर बढ़ा देश का गौरव ,हमारा सफल किया चंद्रयान ।विश्व में शीश पाया है ये ऊंचा ,हमारा प्यारा गर्वित हिंदुस्तान ।।चंद्रमा के दक्षिणी छोर जाकर ,विश्व…

दो कवयित्रियों की कविता

स्मिता गुप्ता की दो कविताएं : ऐ दिल तू यह जान ले और दूसरी हम इतिहास के सर्जक हैं 1. ऐ दिल तू यह जान ले जो सच है उसे…

You Missed

स्मिता गुप्ता की कविता : गुलमोहर
आधुनिक मशीन से युक्त तृप्ति पैथ लैब का उद्घाटन, यहां हर तरह की होगी जांच
जीएनएसयू में पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग में फेयरवेल समारोह का आयोजन
साहित्यकारों में भी दिख रहा है कला एवं संगीत के प्रति समर्पण : सिद्धेश्वर
बाडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में मिस्टर बिहार क्लासिक बाडी बिल्डिंग का खिताब एयात को मिला
प्रो0 पी. सी. महालनोविस को देश के सांख्यिकी के क्षेत्र में दिए गए योगदानों को लेकर किया गया याद